वर्ल्‍ड फेमस हथियार निर्माता कंपनी ने बनाई इलेक्ट्रिक सुपर कार
कानपुर। एके-47 असॉल्‍ट राइफल जैसे खतरनाक हथियार के लिए दुनिया भर मे फेमस रसियन आर्म्‍स मैनुफैक्चर्र कंपनी क्लाशनिकोव ने हाल ही में मॉस्को के नजदीक हुए डिफेंस एक्सपो में एक ऐसी इलेक्ट्रिक सुपर कार का मॉडल प्रदर्शित किया है। जो देखने में 1970 के सोवियत हैचबैक मॉडल 'लाडा' से हूबहू मिलती है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक अपने हथियारों के लिए फेमस रहीं क्लाशनिकोव फिलहाल अपनी नई इलेक्ट्रिक कार CV-1 को लेकर सुर्खियों में है।

मात्र 6 सेकंड में 0 से 60 मील प्रति घंटा की स्पीड कर लेती है हासिल
द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक क्लाशनिकोव द्वारा बनाई गई यह इलेक्ट्रिक कार किसी भी नॉर्मल पेट्रोल कार की तरह ही पावरफुल है। कंपनी का दावा है कि यह कार सिर्फ 6 सेकंड में 0 से 60 मील प्रति घंटा की स्पीड पर जा सकती है। इसके अलावा इस कार की मैक्सिमम स्पीड है 80 किलोमीटर प्रति घंटा। बता दें कि क्लाशनिकोव की यह कार एक बार चार्ज करके 350 किलोमीटर तक का नॉनस्टॉप सफर तय कर सकती है।

ak-47 बनाने वाली कंपनी ने बनाई इलेक्ट्रिक सुपर कार,जो दुनिया की बेस्‍ट कारों को यूं देगी टक्‍कर!

ऐलन मस्‍क की टेस्‍ला कार को दे सकती है कड़ी टक्‍कर
डेलीमेल की रिपोर्ट के मुताबिक क्लाशनिकोव की यह इलेक्ट्रिक कार दुनियाभर में इलेक्ट्रिक कार बनाने के लिए मशहूर ऐलन मस्‍क की कंपनी टेस्‍ला को कड़ी चुनौती दे सकती है। हालांकि डिफेंस एक्सपो में प्रदर्शित होने के बाद कंपनी के प्रवक्ता अपनी 500 किलोवाट पावर वाली सीवी-वन कार में कोई भी ऐसी विशेष या अनोखी खूबी नहीं बता सके जोकि टेस्ला कार में मौजूद ना हो। वैसे बता दें कि क्लाशनिकोव की सीवी-वन और दूसरी ओर टेस्ला की मॉडल 3 कार की तुलना करने पर पता चलता है कि स्‍पीड के मामले में टेस्‍ला की मॉडल 3 कार CV-1 से करीब 3 गुना ज्यादा फास्‍ट है। यानि कि CV-1 के 80 किलोमीटर पर आवर स्पीड की तुलना में टेस्ला मॉडल 3 कार 225 किलोमीटर पर आवर की स्पीड पर दौड़ सकती है, जो वाकई कमाल है। एक बात तो तय है कि फ्यूचर में इन इलेक्ट्रिक कारों का मुकाबला रोमांचक होने वाला है।

अब आकाशगंगा और सितारों के साथ लीजिए सेल्फी, नासा ने लांच की अनोखी मोबाइल ऐप

स्मार्टफोन में स्‍क्रीनशॉट लेना है बड़ा आसान, बस यह तरीका जान लीजिए

Technology News inextlive from Technology News Desk