कीडगंज नई बस्ती निवासी किराना व्यवसायी का धारदार हथियार से गला रेता

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: कीडगंज थाना क्षेत्र के नई बस्ती में किराना व्यवसायी बसंत लाल केसरवानी की बदमाशों ने गला रेतकर हत्या कर दी. वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब वह घर के बाहर बरामदे में सो रहा था.

किराए के मकान में रहता था

कौशांबी के महेवाघाट थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव निवासी बसंत लाल केसरवानी कीडगंज के नई बस्ती में किराए के मकान में रहता था. वह बिल्लू पंडा के मकान में काफी समय से रहता था. किराए के मकान में ही उसने किराने की दुकान के साथ दूध सप्लाई का भी काम ले रखा था. परिवार में पत्‍‌नी बिमला देवी व सास अनारकली है. रोज की तरह बसंत गुरुवार को भोजन के बाद घर के बाहर बने बरामदे में चारपाई में सो गया. देर रात बदमाशों ने बसंत लाल पर हमला बोला और धारदार हथियार से गला रेत कर मार डाला. उन्होंने मृतक के सिर पर भी हमला किया. शुक्रवार सुबह दूध लेने वाले युवकों ने आवाज लगाई तो वह चारपाई से नहीं उठा. कंबल हटाते ही खून से लथपथ लाश देख वे सकते में आ गए और शोर मचाया तो पत्‍‌नी बिमला व सास बाहर निकलीं. खबर पुलिस को दी गई. सूचना पर एएसपी अमित आनंद, इंस्पेक्टर कीडगंज फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे.

दूसरी मां के साथ रहते हैं बच्चे

बसंत की हत्या की सूचना उसकी दूसरी पत्‍‌नी दुर्गा देवी को हुई तो वह भी बच्चों के साथ पहुंच गई. पत्‍‌नी लाश देख बेसुध हो गई तो पड़ोसियों ने किसी तरह संभाला. परिजनों के मुताबिक बसंत की पहली शादी नैनी की बिमला से हुई थी. बच्चे न होने पर दोनों की रजामंदी पर बसंत ने छत्तीसगढ़ की दुर्गा देवी से विवाह किया. दुर्गा बेटी वैष्णवी व बेटे गणेश के साथ गांव में रहती है. सास अनारकली करीब तीन माह पहले दामाद के घर आई थी.

हर एंगल पर हत्या की जांच पड़ताल की जा रही है. परिवार वालों ने भी कुछ खास नहीं बताया. हत्यारों के बारे में पता लगाया जा रहा है. जल्द ही पकड़कर खुलासा किया जाएगा.

राजकुमार शर्मा, इंस्पेक्टर