मंदिर में कांच तोड़ कर चांदी का मुकुट और कैश किया पार

छत के रास्ते घर में घुस कर लाखों का माल बटोर ले गए

आगरा. लोगों की रक्षा करने वाला ही जब खतरे में आ जाए तो उसकी रक्षा कौन करे. मामला दरअसल मंदिर में चोरी का है. चोरों ने यहां पर बुर्जी से मंदिर में प्रवेश कर हाथ साफ कर दिया जबकि दूसरी तरफ दो मंजिला मकान को निशाना बना कर लाखों का माल पार कर ले गए. दोनों ही स्थानों पर पुलिस छानबीन कर रही है. चोरी में एक गैंग के होने की सम्भावना बन रही है.

केस-1

मंदिर में घुसे चोर

थाना एत्मादउद्दौला स्थित सीता नगर में बने राधा कृष्ण मंदिर में सोमवार की देर रात चोरों ने हाथ साफ कर दिया. मंदिर महंत राम अवतार शर्मा निवासी कमला नगर रात में घर चले गए थे. मंदिर में उनकी मां व भतीजा सो रहे थे. आधी रात चोरों ने बुर्जी पर लगे एक कांच को तोड़ दिया और मंदिर में प्रवेश कर गए. सुबह जगार होने पर लोगों को इसकी जानकारी हुई

मौके पर पहुंचे बजरंगी

जानकारी होने पर राष्ट्रीय बजरंग दल के लोग पहुंच गए. मंदिर में चोरी को लेकर मौके पर हंगामा हो गया. मौके पर सीओ छत्ता रीतेश सिंह पहुंच गए. लोगों मामले में जल्द खुलासे की मांग की है. चोरों ने यहां देवी चांदी का मुकुट व दानपेटी से 70 हजार कैश पार कर दिया.

केस-2

मकान पर किया हाथ साफ

थाना एत्मादउद्दौला चीनी का रोजा निवासी अफजाल खांन पुत्र स्व. नबाव खान पेंट्री का काम करता है. इनका दो मंजिला मकान है. नीचे छोटा भाई अंसार रहता है. अंसार बाहर गया हुआ है. सोमवार की देर रात चोरों ने छत के रास्ते घर में प्रवेश कर लिया. सभी घर पर सोए हुए थे.

लाखों के माल पर किया हाथ साफ

सुबह जब जगार हुई तो सामान अस्त-व्यस्त मिला. सूटकेस छत पर पड़े मिले. सूचना पर पुलिस पहुंच गई. पीडि़त परिवार का कहना था कि चोर उनके यहां से करीब 1 लाख 10 हजार रुपये व सोने-चांदी के जेवरात के अलावा जेब में रखे रुपये भी चोरी कर ले गए. दोनां मामलों में एक ही गैंग के होने की आशंका बन रही है.

केस-3

घर में नौकर रखना पड़ गया भारी

कैलाशपुरी निवासी रमन सिंह कुछ दिन पहले घर में खाना बनाने के लिए किशोर नाम के युवक को काम पर रखा था. 18 अगस्त को दादी की वर्सी थी. घर पर प्रसाद वितरण किया गया था. मदद के लिए किशोर घर पर रुक गया लेकिन इस दिन के बाद से वह काम पर नहीं आया.

जेवर, नगदी साफ किए

19 अगस्त को रमन बैंगलोर चले गए. घर में पिता और पत्‍‌नी रह गए. 24 अगस्त को वापस लौटे तो पता चला कि अलमारी में रखी नगदी और सोने चांदी के जेवरात गायब हैं. चाबी पिता के पास रहती है. रमन को नौकर किशोर पर चोरी का पूरा शक है. किशोर ने डुप्लीकेट चाबी बनवा कर घटना को अंजाम दिया है. पीडि़त ने मामले में थाने में नामजद मुकदमा दर्ज कराया है.