अब फिर से दूसरे मंदिर पर चोरों का धावा, दानपेटी तोड़ गए
agra@inext.co.in
AGRA. परेशानी आने पर लोग मंदिर में जाकर भगवान से गुहार लगाते हैं, लेकिन अब जब भगवान को ही खतरा हो तो उनकी सुरक्षा कैसे होगी. फिर तो मुंह से यही निकलेगा, अपनी रक्षा खुद करो भगवान. दरअसल, मामला लगातार हुई मंदिरों में चोरी का है. पूर्व में चोरों ने थाना एमएम गेट जैन मंदिर में अष्टधातु की मूर्ति चोरी कर ली, अब थाना छत्ता स्थित जैन मंदिर में चोरों ने हाथ दिखाए. यहां पर चोरों ने कीमती सामान समेट लिया, लेकिन चोरी नहीं कर पाए. चोर यहां पर सीसीटीवी कैमरे तोड़ गए.

देर से बंद हुआ था मंदिर
थाना छत्ता माल के बाजार स्थित श्री चंद्रप्रभ दिगम्बर प्राचीन बड़ा जैन मंदिर सुबह छह बजे खुलता है. रात साढ़े आठ बजे बंद होता है. गुरुवार को मंदिर में पाठ हो रहा था. मंदिर रात में साढ़े नौ बजे बंद हुआ. मंदिर कमेटी के अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार जैन हैं. पास ही रहने वाले ज्ञान युवा परिषद के महामंत्री अजय जैन ने बताया कि शुक्रवार सुबह पांच बजे जब मंदिर खोलने आए, तो चैनल का ताला टूटा हुआ था. माली राज कुमार गेट खोलने आया था. अंदर मुख्य गेट पर ताला लगा था. अंदर गए तो सामान बिखरा पड़ा था. चोर सीढि़यों के बराबर से बनी अलमारी से अंदर प्रवेश कर गए. मंदिर में पीतल के बर्तन दो बोरियों में भरे हुए थे. 6-7 मूर्ति अलग रखी हुई थीं. सोने की पॉलिश चढ़ा हुआ सिंहासन टूटा हुआ पड़ा था. सम्भवत: चोरों ने तोड़ कर उसे चेक किया होगा.

दानपेटी साफ कर ले गए चोर
मंदिर में रखी बड़ी दानपेटी का ताला चोर तोड़ नहीं सके. लेकिन छोटी दानपेटी को निशाना बना लिया. चोरों ने ताला तोड़ कर उसमें रखी नगदी पार कर दी. चोरों ने सामान समेट तो लिया लेकिन ले जा नहीं पाए. माना जा रहा है कि उस दौरान चोरों को किसी के आने की आहट सुनाई दी होगी, जिससे वह सामान नहीं ले जा सके.

सीसीटीवी तोड़ गए चोर
चोरों ने पकड़े जाने के भय से सीसीटीवी तोड़ दिए. डीवीआर भी निकाल ली, लेकिन वह उसे भी छोड़ गए. अजय जैन के मुताबिक कुछ दिन पहले डीवीआर खराब हो गया था. मंदिर में चोरी की सूचना पर आसपास के लोग मौके पर जमा हो गए. पुलिस भी पहुंच गई.

पहले भी हुई थी मूर्ति चोरी
लोगों के मुताबिक 25 साल पहले भी मूर्ति चोरी हुई थी, लेकिन पुलिस ने उसे फीरोजाबाद से बरामद किया था.