prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: कुंभ मेला क्षेत्र में लगाई गई तीस लाख रुपए के कीमत की निर्माण सामग्री रखवालों ने ही चुरा थी। निर्मोही अखाड़ा में लगाए गए इन सामग्रियों को खोलकर शास्त्री पुलिया के नीचे छिपा दिए थे। चोरी हुए सामानों के बाबत महाशक्ति कंस्ट्रक्शन की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। दारागंज पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर चोरों की तलाश में थी। प्रभारी इंटेलीजेंस विंग/ सर्विलांस निरीक्षक धर्मेद्र यादव, स्वाट टीम वृंदावन राय, उप निरीक्षक चंदन पांडेय दो चोरों की तलाश में थे। टीम ने बिहार के दो लोगों को पकड़ा तो धर्म क्षेत्र से हुई चोरी की इस घटना से पर्दा उठ गया।

पुलिया के नीचे छिपाए थे सामान
इन दिनों कुंभ मेला क्षेत्र में हुए निर्माण कार्यो को समेटने का काम चल रहा है। मेला समाप्त होने के बाद किए गए निर्माण की सामग्रियां खोल कर सुरक्षित रखी जा रही हैं। निर्मोही अखाड़ा के निर्माण में लाखों की सामग्री का प्रयोग हुआ था। इसे खोलने व रखवाली के कई कई मजदूर लगाए गए थे। सामानों की रखवाली के लिए भी आदमी रखे गए थे। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी अतुल शर्मा ने बताया कि अचानक करीब तीस लाख रुपए की शटरिंग आदि गायब हो गई। मामले में महाशक्ति कंस्ट्रक्शन की निर्माण सामग्री चोरी होने की सूचना पर पुलिस एक्टिव हो गई। शटरिंग मालिक ने दारागंज थाने में मामले की तहरीर दी। चोरी के इस मामले की जांच इंटेलीजेंस विंग/ सर्विलांस निरीक्षक व लोकल पुलिस को सौंपी गई थी। मुखबिर की सूचना पर टीम ने राम आशीष गुप्ता पुत्र अलियार शाह व उदय गुप्ता पुत्र अलियार शाह निवासी भगवानपुर थानाभगवानपुर कैमूर बिहार को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों भाइयों ने बताया कि चोरी हुई निर्माण सामग्रियों को दोनों ने शास्त्री पुलिया के नीचे छिपा कर रखे हैं। इन सामग्रियों की बिक्री के लिए दोनों ग्राहक की तलाश कर रहे थे। रेट अच्छा नहीं मिलने के कारण वे बिक्री करने से रुके हुए थे। पकड़े गए राम आशीष ने यह भी बताया कि कुछ निर्माण सामग्री प्रतीश श्रीवास्तव के पास है। चोरी के इस काम में प्रतीश भी उनके साथ था।

बरामद की निर्माण सामग्री
पकड़े गए अभियु्रक्तों की निशानदेही पर पुलिस ने उनके द्वारा चुराए गए 128 जैक, 20 पीस सिंगल जैक, 36 पीस लेजर, 13 पीस स्टैंड, छोटी बड़ी मिला कर नौ पीस प्लेट, दो चौखट, पांच पीस बोर्ड, 18 नैनल, 67 पीस सिकंजा, दो पीस खिड़की बरामद कर लिया है। शेष सामग्रियों की बरामदगी के लिए पुलिस हाथ पांव मार रही है। उनके द्वारा बताए गए ठिकानों से माल बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं। एसएसपी ने इन शातिर चोरों को गिरफ्तार करने वाली टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।