jamshedpur@inext.co.in

JAMSHEDPUR: टेल्को थाना अंतर्गत खरंगाझाड़ राधिका नगर स्थित विष्णुपथ निवासी सिद्धार्थ मजूमदार के सूने घर पर चोरों ने गुरुवार को लाखों के माल साफ कर दिया. चोरी की जानकारी सिद्धार्थ को वापस तीन बजे लौटने पर हुई. सिद्धार्थ ने बताया कि घर में घुसते ही दोनों कुत्तों के चित पड़े देखकर किसी अनहोनी का शक हुआ. उन्होंने बताया कि चोरों ने साढ़े तीन लाख के जेवर और 40 हजार नगदी लेकर फरार हो गए. टेल्को पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर चोरों की धरपकड़ के लिए छापेमारी कर रही है.

घर में नहीं था कोई

पीडि़त सिद्धार्थ ने बताया कि चोरी के समय घर पर कोई नही था. पत्नी सोमा मजूमदार टाटा मोटर्स अस्पताल में बाई सिक्स कर्मचारी ह वह मंगलवार को बेटी पूजा के साथ बहन के पास कोलकाता गई हुई थी. सिद्धार्थ अपने काम से घर से बाहर गया था. पीडि़त ने बताया कि शक होने पर पीछे के रास्ते से देखा तो बाउंड्री वॉल के अंदर ग्रिल का ताला टूटा हुआ है. चोरों ने अंदर लगे लकड़ी के दरवाजे को तोड़कर दो लॉकर तोड़कर जेवर और नगदी चुरा ले गए. घर में मौजूद दो पालतू कुत्ते भी एक ओर पड़े थे. जिससे लग रहा था चोरों ने पहले इन्हें खिलाने के बहाने नशीली दवा सुंघाई होगी. चोर अर्टिफिसियल ज्वैलरी घर पर ही छोड़ गये और असली ज्वैलरी लेकर भाग गए. पीडि़त ने बताया कि लॉकर में 3 सोने की चेन, 4 सोने की अंगूठी, 4 कंगन, और 40 हजार नकदी था जो चोर लेकर फरार हो गए.

हुई थी डकैती की कोशिश

सिद्धार्थ मजूमदार के घर सात साल पहले भी डकैती की कोशिश की गई थी. डकैतों ने देर रात घर में घुसकर चाकू और बंदूक का भय दिखाकर चोरी की कोशिश की थी पर उस वक्त किराएदार के शोर मचाने पर वो भाग गए थे. अब घर में कोई किराएदार नहीं है.

तीन दिन पहले भी हुई है चोरी

7 जनवरी को भी टेल्को कॉलोनी के2-28 के रहने वाले संतोष कुमार के घर में भी चोरों ने चोरी की थी. संतोष अपने पिता के श्राद्ध के लिए बिहार के औरंगाबाद गए हुए थे.