- कोचिंग संचालक को फोन से दी गई धमकी

- कर्नलगंज थाने में पांच लोगों के खिलाफ दर्ज करवाई एफआईआर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD:

कोचिंग संचालक व प्रतियोगी छात्र से चार लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है. उसके पास रंगदारी का फोन सात जनवरी को आया था और रुपए न मिलने पर जान से मारने की धमकी दी गई. कोचिंग संचालक ने एसएसपी से शिकायत की तो पुलिस हरकत में आई. पुलिस ने चकिया के एक युवक व उसके चार साथियों के खिलाफ रंगदारी मांगने, धमकी देने की धाराओं में एफआईआर दर्ज कर ली है.

आजमगढ़ का है रहने वाला

धमकी घनानंद यादव को दी गई है. वह मूलरूप से आजमगढ़ के कोयलसा का रहने वाला है. वह फिलहाल सलोरी में रहता है. प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के साथ ही उसने सहसों में नीति कोचिंग भी खोल रखा है. आरोप है कि सात जनवरी को उसके पास फोन आया. फोन करने वाले ने खुद को चकिया का रहने वाला अब्दुल कादिर बताया. कहा कि कोचिंग चलाकर खूब रुपए कमाते हो. दो दिन के भीतर अगर तुमने चार लाख रुपए नहीं पहुंचाए तो गोली मार दी जाएगी. पहले तो घनानंद ने कॉल को नजरअंदाज कर दिया. जब उसके पास अगले दिन फिर से कॉल आई तो वह डर गया. पत्‍‌नी और खुद की जान पर खतरा जताते हुए कोचिंग संचालक पहले शिकायत लेकर कर्नलगंज थाने गया. वहां पर कोई सुनवाई नहीं हुई तो उसने एसएसपी ऑफिस में एप्लीकेशन दी. एसएसपी के निर्देश पर बुधवार रात अब्दुल कादिर, उसके साथी नरेंद्र शर्मा, कासिम, नौशाद तथा अशरफ के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई. कोचिंग संचालक ने वह सेलफोन नंबर भी पुलिस को दिया है जिससे धमकी दी गई थी. कर्नलगंज इंस्पेक्टर सिद्धार्थ तोमर का कहना है कि एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है. अभी अरेस्टिंग नहीं की गई है.