धूमनगंज में बस की टक्कर से मंडी के आढ़तिया की मौत

मेजा और घूरपुर में हुए सड़क हादसों में दो की मौत, दो घायल

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सड़क हादसों में मंगलवार को जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में कुल तीन लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. एक के बाद एक सड़क हादसे से जिले की कई सड़के लाल हो गई. धूमनगंज, मेजा और घूरपुर थाना क्षेत्र में ये हादसे हुए. घूरपुर में लोगों ने जमकर हंगामा किया. इससे कई घंटे तक हाईवे पर जाम लगा रहा. सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी प्रकार लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया.

देर रात बस ने मारी टक्कर

धूमनगंज थाना क्षेत्र के मीरापट्टी इलाके में सोमवार रात बस की टक्कर से राम बहादुर सिंह (60) की मौत हो गई. राम बहादुर सिंह मूलरूप से कौशांबी जिले के सरायअकिल थानाक्षेत्र स्थित कटैनी गांव के निवासी थे. वे धूमनगंज के टीपी नगर में पत्‍‌नी विद्या देवी, दो बेटे और एक बेटी के साथ रहते थे. मंडी में आढ़त का काम करता थे. सोमवार दोपहर किसी काम से सिविल लाइंस आये थे. यहां से रात में बाइक से घर लौट रहे थे. पीएसी गेट के आगे मीरापट्टी इलाके में एक बस ने टक्कर मार दी. गंभीर रूप से जख्मी राम बहादुर को पुलिस ने स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया. वहां देर रात इलाज के दौरान मौत हो गई. मृतक के बेटे नरेंद्र ने पुलिस को बताया कि टक्कर मारने वाली बस एयरफोर्स की थी. इंस्पेक्टर धूमनगंज का कहना है कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

बस की टक्कर से युवक की मौत

मिर्जापुर लालगंज थाना क्षेत्र के सेमरी गांव का विनीत कुमार मिश्रा मंगलवार को बड़े भाई को लेने के लिए मेजा जा रहा था. मांडा में एक युवक ने उससे लिफ्ट मांगी. दोनों युवक बाइक से मेजा की तरफ जा रहे थे. जैसे ही वे मेजा थाना क्षेत्र के मनु का पुरा गांव के पास पहुंचे. बस ने बाइक में टक्कर मार दी. इससे लिफ्ट लेने वाले युवक की मौके पर ही मौत हो गई. विनीत गंभीर रूप से घायल हो गया. सूचना पर पहुंचे ग्रामीणों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी. पुलिस ने विनीत को इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया. जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

ट्रक की टक्कर से बालू मजदूर की मौत

घूरपुर बाजार में हाईवे पर मंगलवार दोपहर एक बेकाबू ट्रक ने बाइक सवार दो युवकों को टक्कर मारते हुए बालू मजदूर को कुचल दिया. मजदूर की मौके पर ही मौत हो गई. बाइक सवार गंभीर रूप से घायल हो गए. हादसे से गुस्साए लोगों ने हाइवे पर जाम लगा दिया और नारेबाजी शुरू कर दी. मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों ने घेर नारेबाजी शुरू कर दी. बवाल की सूचना मिलते ही एसडीएम बारा और सीओ भी मौके पर पहुंच गए. एसडीएम के समझाने पर लोग शांत हुए. इस दौरान तीन घंटे तक रीवा हाईवे पर यातायात बाधित रहा.

घूरपुर क्षेत्र के देवरिया गांव के प्रधान वीपी पटेल बाइक से घूरपुर बाजार निवासी कल्लू कुशवाहा के साथ बैंक से घर जा रहे थे. घूरपुर हाईवे चौराहा पर शहर की ओर आ रहे गिट्टी लदे ट्रक ने ने बाइक मे टक्कर मार दी. दोनो घायल हो गये. इनसे चंद कदम की दूरी पर पैदल ही बाजार की ओर जा रहा बालू मजदूर मिथुन निषाद पुत्र सूरजभान को ट्रक ने कुचल दिया. उसकी मौके पर ही मौत हो गई. दोनो घायलों को परिजनों ने शहर के एक निजी अस्पताल मे भर्ती कराया.