ranchi:चार दिन पहले जिस घर पर शादी की रौनक थी, वहां शनिवार को उस वक्त मातम पसर गया, जब नामकुम में एक सड़क हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे की वजह एक बार फिर वही खूनी रफ्तार थी, जिसने पिछले एक महीने में हाईवे पर कई जानें ली है। नामकुम थाना क्षेत्र में सरवल के समीप ¨रग रोड पर शनिवार की दोपहर करीब 1.45 बजे तेज रफ्तार बोलेरो व ट्रक में सीधी टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बोलेरो के परखच्चे उड़ गए। इस हादसे में बोलेरो के चालक सहित तीन की मौत हो गई, जबकि अन्य छह गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी की हालत नाजुक बनी हुई है। घायलों का इलाज रिम्स में चल रहा है। सभी चान्हो थाना क्षेत्र के पीपराटोली ताला व कदमटोली गांव के रहने वाले हैं।

दूल्हा-दुल्हन को लाने जा रहे थे परिजन

चान्हो के पीपराटोली गांव निवासी अनिल उरांव की शादी 16 अप्रैल को बुंडू के उरांव टोली की लड़की से हुई थी। शादी के बाद परंपरा के अनुसार दूल्हा बुंडू में दुल्हन के घर पर था। दूल्हा-दुल्हन को लाने के लिए दूल्हे के परिजन बोलेरो से सुबह करीब 12 बजे बुंडू के लिए निकले थे। दोपहर करीब पौने दो बजे बोलेरो तुपुदाना से ¨रग रोड पर नामकुम की तरफ बढ़ी, बोलेरो की रफ्तार तेज थी। ¨रग रोड पर मरम्मत कार्य चल रहा था, जिसके चलते वन वे पर गाडि़यां चल रही थीं। सरवल में रांची-टाटा मार्ग से एक किलोमीटर पहले ¨रग रोड पर सूरज होटल के सामने दूसरी तरफ से आ रहे ट्रक से बोलेरो की सीधी भिड़ंत हो गई।

जोरदार आवाज दूर तक सुनी गई

टक्कर इतनी जोरदार थी कि उसकी आवाज आसपास के गांवों तक सुनाई दी। सभी ¨रग रोड की ओर दौड़े और इसकी सूचना नामकुम पुलिस को दी। मौके पर तीन एंबुलेंस पहुंचे। घटनास्थल पर ही बोलेरो के चालक गुलजार व दूल्हे सुनील की मौसी अंगनी उराईन की मौत हो गई। उन्हें एक एंबुलेंस से नामकुम थाने ले जाया गया। वहीं, सात घायलों को रिम्स ले जाया गया, जहां रिम्स में दूल्हे की पड़ोसन सुनीता उराईन की भी मौत हो गई।

इनकी मौत हुई है

- गुलजार अंसारी : बोलेरो का चालक। उम्र 30 वर्ष। ग्राम पीपराटोली ताला, चान्हो, रांची।

- अंगनी उराईन : उम्र 28 वर्ष, पीपराटोली ताला। दूल्हे की मौसी।

- सुनीता उराईन : उम्र 35 वर्ष, ग्राम पीपराटोली ताला, चान्हो। दूल्हे की पड़ोसन।

ये हैं घायल

- पुनिया उराईन : दूल्हे की मां। उम्र 45 वर्ष, पति स्व। सोमे उरांव, ग्राम पीपराटोली ताला, चान्हो, रांची।

- पार्वती उराईन : उम्र 60 वर्ष, दूल्हे की दादी।

- सुनील उरांव : उम्र 22 वर्ष। दूल्हे का भाई।

- कोइली उराईन : ग्राम कदमटोली, चान्हो। दूल्हे की नानी।

- गंदरू उरांव : उम्र 46 साल। पीपराटोली ताला, चान्हो। दूल्हे का पड़ोसी।

- आर्यन उरांव : उम्र चार वर्ष, दूल्हे की मौसी अंगनी उराईन का बेटा है।

बहन की गाड़ी चलाता था गुलजार

घटना में मृत बोलेरो का चालक गुलजार अंसारी अपनी बहन सैदुन बीबी की बोलेरो भाड़े पर चलाता था। सैदुन बीबी चान्हो थाना क्षेत्र के ही सुकुरहुट्टू की रहने वाली है। घटना की सूचना मिलते ही सैदुन का रो-रोकर हाल बेहाल था। वह बार-बार बेहोश हो रही थी। गुलजार चार भाई-बहन में सबसे छोटा था।

रिम्स में हुआ सिर्फ दो शवों का पोस्टमार्टम

नामकुम हादसे में घटनास्थल पर ही बोलेरो के चालक गुलजार अंसारी व दूल्हे की मौसी अंगनी उराईन की मौत हो गई थी। दोनों शवों को नामकुम पुलिस सीधे रिम्स भेजा था। रिम्स में दोनों शवों का पोस्टमार्टम हुआ। पोस्टमार्टम के बाद दोनों शव परिजन को सौंप दिए गए हैं। तीसरी मृतक सुनीता उराईन के शव का अभी पोस्टमार्टम नहीं हुआ है।