-चार ¨जदा कारतूस और कार जब्त, कुछ किडनैपर अब भी फरार

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

॥नर््ढ्ढक्कक्त्र/क्कन्ञ्जहृन्: बीते 27 अगस्त को पटना से अपहृत ठेकेदार को बिदुपुर पुलिस ने थाना क्षेत्र के रहिमापुर गांव के पास से बरामद कर लिया. पुलिस ने हथियार और ¨जदा कारतूस के साथ 3 अपहर्ताओं को भी अरेस्ट किया. अन्य किडनैपर भागने में सफल रहा. पुलिस ने उस कार को भी बरामद कर लिया, जिससे किडनैप कर ठेकेदार को लाया गया था. जानकारी के अनुसार अपहरण की यह वारदात उस समय हुई जब ठेकेदार नरेश राय 27 अगस्त को बाइक से मीठापुर बस स्टैंड पहुचे थे. आधा दर्जन अपराधियों ने नरेश को कार में जबरन बैठा लिया और लेकर हाजीपुर की ओर फरार हो गए.

अपहरण में समधी का हाथ

पटना के जक्कनपुर थाना के विग्रहपुर निवासी ठेकेदार नरेश राय किसी काम से बाइक से सुबह में मीठापुर बस स्टैंड के पास पहुंचे थे. तभी आधा दर्जन संख्या में रहे अपहर्ताओं ने जबरन उनकी बाइक रोकी और कार में बैठाया था. बिदुपुर पुलिस ने बताया कि नरेश राय के अपहरण में उसके सगे-संबंधियों का ही हाथ है. समधी पटना के जीवनचक गांव के उपेंद्र राय ने ही अपहरण की साजिश रची थी और उसी ने नरेश राय का अपहरण किया. उपेंद्र राय ने नरेश राय को अपने रिश्तेदार के घर में रखा. ठेकेदार नरेश राय का अपहरण फिरौती के लिए किया गया था. अपहरण के बाद अपहर्ताओं ने नरेश के मोबाइल से ही 5 लाख की फिरौती उसके घर वालों से की थी.

एसएसपी को दी थी सूचना

ठेकेदार नरेश जब घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उनके मोबाइल पर फोन करना शुरू किया. नरेश राय का मोबाइल स्विच ऑफ बता रहा था. शाम को नरेश के मोबाइल से जब फिरौती के पांच लाख रुपए की मांग की गई तो परिजनों के होश उड़ गए. परिजनों ने पटना एसएसपी से मिलकर घटना की जानकारी दी. एसएसपी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए अपहृत के मोबाइल को सर्विलांस पर लिया तो पता चला कि मोबाइल का लोकेशन बिदुपुर के रहिमापुर में है. बिदुपुर पुलिस थानाध्यक्ष संजीव कुमार के नेतृत्व मंगलवार की देर रात्रि रहिमापुर में अर्जुन राय के घर में छापेमारी कर नरेश राय को बरामद कर लिया.

कार पर युवा कांग्रेस का बोर्ड

पुलिस के अनुसार जिस कार से अपहरण किया गया उसे भी रहिमापुर से बरामद कर लिया गया है. कार लाल रंग की है. उसपर हाजीपुर लोकसभा क्षेत्र युवा कांग्रेस के महासचिव को बोर्ड लगा है. थानाध्यक्ष ने बताया कि बिहवारपुर के ¨मटू राय की निशानदेही पर रहिमापुर में छापेमारी कर बरामद कर लिया गबया. तीन अपहर्ताओं को भी हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया गया. पांच के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करायी गयी है.