- चकरतनपुर नारामऊ निवासी था मृतक, मंधना में एक बगीचे में मिली लाश, पुलिस और फोरेंसिक टीम ने मौके पर जांच की, खून से सनी ईंट बरामद

>kanpur@inext.co.in

KANPUR : शहर में मर्डर का सिलसिला शुरू हो गया है. पुलिस अभी पुरानी वारदातों का खुलासा नहीं कर पाई है कि तीसरे दिन एक और मर्डर हो गया. इस बार बिठूर में ई-रिक्शा मालिक की ईंट से कुचल नृशंस हत्या कर दी गई. उसकी खून से सनी लाश एक इंटर कॉलेज के पास एक बगीचे में मिली. पुलिस और फोरेंसिक टीम ने मौके पर पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सवाल ये है कि पुलिस क्या कर रही है पिछले तीन दिन में तीन मर्डर हो चुके हैं.

बुधवार शाम को घर से निकला था

बिठूर के चकरतनपुर नारामऊ निवासी शिवमोहन तिवारी (23) ई-रिक्शा मालिक था. परिवार में मां शांति, दो भाई मोहन, हरिमोहन और एक बहन लक्ष्मी है. शिवमोहन बुधवार शाम को घर से निकला था, लेकिन वापस घर नहीं पहुंचा. परिजनों को सुबह पुलिस से सूचना मिली कि मंधना बीपीएमजी इंटर कॉलेज के पास बाबा बगीचा में एक शव मिला है. परिजनों ने वहां पहुंचकर शव की शिनाख्त की. परिजनों के मुताबिक शिवमोहन के पास मोबाइल और हजार रुपए थे, लेकिन पुलिस को सिर्फ एक पर्ची मिली है. मोबाइल और रुपए गायब थे.

गुस्से में की वारदात

शिवमोहन की बड़ी बेरहमी से हत्या की गई, उसका चेहरा ईंट से बुरी तरह से कुचला हुआ था. उसकी लाश के पास से पुलिस को खून से सनी ईंट भी बरामद हुई है. रिटायर्ड सीओ जितेंद्र सिंह के मुताबिक ऐसी वारदात या तो शराब के नशे में होती है या फिर बेहद गुस्से में. भाई हरिमोहन के मुताबिक शिवमोहन शराब का लती था. इससे माना जा रहा है कि शराब के नशे में किसी से विवाद में उसकी हत्या की गई है.

हिरासत में ड्राइवर, ई-रिक्श्ा खरीददार

पुलिस के मुताबिक शिवमोहन ने किसी से ई-रिक्शा को बेचने का सौदा कर लिया था. शिवमोहन ने एडवांस भी ले लिया था. इसके बाद उसका इरादा बदल गया. इसे लेकर उसका ई-रिक्शा खरीददार से विवाद चल रहा था. इसके अलावा पुलिस को शिवमोहन की जेब से पुत्तन बाजपेई नाम के ड्राइवर का मोबाइल नंबर लिखी पर्ची मिली है. पुत्तन ने ही परिजनों के पहुंचने से पहले शव की शिनाख्त की थी. पुलिस ने उसे भी हिरासत में ले लिया गया है. दोनों से पूछताछ की जा रही है.

इस हफ्ते लगातार तीसरी हत्या

शहर में इस हफ्ते यह लगातार तीसरी हत्या है. इससे पहले सोमवार को सचेंडी में वेल्िडग कर्मी और मंगलवार रात पनकी में छात्रा की हत्या हो चुकी है. पुलिस अभी किसी भी वारदात का खुलासा नहीं कर पाई है. इससे पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठने लगे हैं.