-आरा में दो व्यवसाई भाइयों समेत तीन को गोली मारी

-औरंगाबाद में युवक की हत्या और मधेपुरा में 10 वर्षीय छात्र को मार डाला

patna@inext.co.in

ARA/PATNA : बुधवार को बिहार के एडीजी एसके सिंघल ने कहा कि बिहार में अपराध का ग्राफ कम हुआ है. इसके दूसरे ही दिन गुरुवार को भोजपुर में दो व्यवसायी भाइयों समेत तीन, औरंगाबाद में एक युवक और मधेपुरा में एक छात्र यानी पांच को गोली मार दी गई. पुलिस की कार्यप्रणाली से सवाल यह उठता है कि जब अपराध का ग्राफ घट रहा है तो अपराधियों का मनोबल कैसे बढ़ रहा है?

आरा में 3 को मारी गोली

आरा शहर में गुरुवार की दोपहर बेखौफ अपराधियों ने अंधाधुंध फाय¨रग कर व्यवसाई भाइयों समेत तीन को गोलियों से भून डाला. जिसमें एक दुकानदार की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि, फाय¨रग में मारे गए दुकानदार का बड़ा भाई समेत एक बीएसएनएल कर्मी गोली लगने से घायल हो गया. अपराधी करीब दस-बारह की संख्या में थे जो अत्याधुनिक हथियारों से लैस थे. घटना टाउन थाना अन्तर्गत धर्मन चौक के पास की है. मारे गए दुकानदार के पेट, सीना व गर्दन समेत शरीर के आठ जगहों पर गोली का निशान पाया गया है. मृतक मो. इमरान खां (25वर्ष) टाउन थाना क्षेत्र के दूधकटोरा मुहल्ला निवासी स्व. अलीमुद्दीन खां का पुत्र था.

निकाय प्रकोष्ठ का था उपाध्यक्ष

घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी आराम से पैदल ही हथियार लहराते फरार हो गए. परिजनों ने तीस से चालीस राउंड फाय¨रग करने की बात कही है. पुलिस को घटनास्थल से तेरह से अधिक खोखा मिला है. मृतक राजद नगर निकाय प्रकोष्ठ का जिला उपाध्यक्ष भी था. इधर, हत्या के बाद आक्रोशित परिजनों ने सदर अस्पताल में काफी हो-हंगामा भी मचाया. इस दौरान नोंकझोंक भी हुई. पुलिस के साथ धक्का-मुक्की भी की गई.

औरंगाबाद में युवक की गोली मारकर हत्या

इधर औरंगाबाद के ओबरा थाने के खरांटी गांव में बुधवार रात अपराधियों ने 40 वर्षीय पप्पू तिवारी की गोली मार कर हत्या कर दी. थाना से मात्र 500 गज की दूरी पर हुई इस वारदात से ग्रामीण आक्रोशित हो उठे. औरंगाबाद से पटना जाने वाली मुख्य सड़क को तीन घंटे तक जाम रखा. पप्पू खटाल चलाता था. बुधवार रात भोजन के बाद वह घर से खटाल पर सोने के लिए चला गया. रात में ही अपराधियों ने उसकी कनपटी में सटाकर गोली मार दी. सुबह दूध लेने पहुंचे ग्राहकों ने उसे मृत पाया. एसडीपीओ राजकुमार तिवारी के मुताबिक घटनास्थल से दो खोखे बरामद हुए हैं.

मधेपुरा में स्कूल से लौट रहे स्टूडेंट की हत्या

जबकि मधेपुरा में पैक्स अध्यक्ष दादा के साथ गुरुवार को स्कूल से लौट रहे 10 वर्षीय छात्र की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. बताया गया कि गोली पैक्स अध्यक्ष पर चलाई गई थी, जो गलती से उनके पोते को लग गई. आलमनगर स्थित पष्टिलक स्कूल से 12 बजे कुंजौड़ी पैक्स अध्यक्ष सुरेश मेहता अपने पोते आयुष को लेकर बाइक से लौट रहे थे. आलमनगर से ही दो अपराधी पीछा कर गोली चला दी. जिससे छात्र की मौत हो गई. आयुष शिक्षक सुमन कुमार का एकलौता पुत्र था. प्रभारी थानाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने बताया कि छापेमारी की जा रही है.