गैंग के कई मेंबर्स के खिलाफ पहले से दर्ज हैं मुकदमे

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: कीडगंज थाना क्षेत्र में पुलिस ने बुधवार की रात तीन शातिर लुटेरों को गिरफ्तार किया. इनके पास से पिस्टल, तमंचा, कारतूस व पांच बम मिले. पुलिस के हत्थे चढ़े शातिरों पर पहले से हत्या, वसूली और लूट के कई मुकदमे दर्ज हैं.

टीटीई की हत्या में शामिल था

एसएसपी नीतिन तिवारी व एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि मुकुल पुत्र प्रमोद मूलरूप से धूमनगंज के हरवारा का रहने वाला है. वह शातिर किस्म का अपराधी है. धूमनगंज में हुई टीटीई की हत्या में वह जेल भी गया था. उसके साथी दरियाबाद का रवि सोनकर व गऊघाट का जावेद अली भी लूटपाट करते थे. दोनों पर गैंगस्टर का मुकदमा है.

व्यापारी को धमकाया था

कुछ दिन पहले धूमनगंज के मार्बल टाइल्स के कारोबारी यथांश केसरवानी को रंगदारी नहीं देने पर धमकी देने में भी इनका नाम सामने आया था. बुधवार रात इंस्पेक्टर कीडगंज राजकुमार शर्मा, एसआई दयाराम, शेर सिंह यादव व विमलेश त्रिपाठी ने चेकिंग के दौरान पहलवान वीर बाबा मंदिर के पास से तीनों को दबोच लिया. इनके कब्जे से असलहा के अलावा दो स्कूटी व एक बाइक भी बरामद हुई.