GORAKHPUR: शादी समारोह से मंगलवार देर रात लौट रहे बाइक सवार तीन युवकों को खजनी के छताई पुल के पास ट्रैक्टर-ट्रॉली ने रौंद दिया. हादसे में एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई. दो अन्य युवक भी गंभीर रूप से घायल हैं. हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. सहजनवां के जुड़ाकोड़री गांव निवासी जितेन्द्र कुमार का 19 वर्षीय बेटा रवि कुमार उर्फ शनि, कैलाश का 19 वर्षीय बेटा ज्योति कुमार, ओम प्रकाश का 18 वर्षीय बेटा अमन कुमार एक ही बाइक से हरपुर बुदहट के खजुरी गांव बारात में गए थे. वहां से वह खजनी के रामपुर अखाड़ा गांव में एक बारात में शामिल होने चले गए. देर रात घर आने के लिए निकले. अभी खजनी के छताई पुल के पास पहुंचे थे कि सामने से आ रही एक ट्रैक्टर-ट्रॉली की चपेट में बाइक आ गई. जिससे मौके पर ही रवि कुमार उर्फ शनि की मौत हो गई. ज्योति और अमन गंभीर रूप से घायल हो गए. राहगीरों द्वार हादसे की सूचना पुलिस को दी गई. सूचना पर पहुंची पुलिस सरकारी एम्बुलेंस की मदद से सभी को जिला अस्पताल लेकर पहुंची. डॉक्टरों ने रवि को मृत घोषित कर दिया. अमन और ज्योति को परिजनों ने इलाज के लिए शहर के एक निजी अस्पताल भर्ती किया है. मृतक रवि दो भाइयों में सबसे बड़ा था. उसके पिता मुंबई में रह कर पेंट पॉलिश का काम करते हैं. रवि के मौत की सूचना के बाद वह घर आने के लिए रवाना हो गए. वहीं बुधवार की शाम को कालेसर स्थित राप्ती नदी के तट पर बगहा बाबा मोक्ष धाम पर शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया.