-लखमिनिया स्टेशन के पूर्वी गुमटी के नजदीक हुई घटना

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्चश्वद्दस्न्क्त्रन्ढ्ढ/क्कन्ञ्जहृन्: मोबाइल की दीवानगी में युवाओं की जान की कीमतें कम होने लगी है. ऐसी ही एक घटना गुरुवार को बरौनी-कटिहार रेलखंड के लखमिनिया रेलवे स्टेशन के पूर्वी गुमटी के पास घटी. ट्रेन से तीन युवकों की कटकर मौत हो गई. घटना करीब सवा दस बजे 15623 डाउन भगत कोठी कामाख्या एक्सप्रेस से हुई. तीनों युवक डाउन लाइन की पटरी पर बैठकर सामने रेड लाइट एरिया की तरफ देख रहा था और हाथ में मोबाइल तथा कान में इयर फोन लगा रखा था. घटना की सूचना स्टेशन अधीक्षक दिनकर शर्मा ने बेगूसराय जीआरपी थाना और स्थानीय बलिया थाना को दी. पुलिस पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

घटनास्थल से मोबाइल बरामद

बताया गया कि कि छोटी बलिया मसूरचक निवासी मरहूम मो. इंसान के 18 वर्षीय पुत्र मो. अहमद, मटिहानी निवासी मो. इकबाल उर्फ कारे का पुत्र मो. टुनटुन और नंद कुमार पोद्दार का पुत्र राजकुमार तीनों गुरुवार की सुबह डाउन लाइन की एक पटरी पर बैठकर सामने रेड लाइट एरिया की तरफ देख रहा था. तीनों युवक कान में इयर फोन लगा रखा था. इससे ट्रेन की आवाज सुनाई नहीं दी और भगत कोठी कामाख्या एक्सप्रेस की चपेट में आ गए. दो युवक का शव लाइन के उत्तर गड्ढ़े में गिरा मिला. जबकि एक का शव लाइन पर पड़ा था. तीनों का मोबाइल व इयर फोन घटनास्थल पर फेंका हुआ मिला. घटना घटते ही बगल के रेडलाइट एरिया व आसपास के गुमटी दुकान सब बंद कर फरार हो गए. घटना की खबर आग की तरह फैल गई. देखते ही देखते हजारों की भीड़ घटनास्थल पर जमा हो गई.

घर में मचा कोहराम

घटना की सूचना स्टेशन अधीक्षक दिनकर शर्मा ने बेगूसराय जीआरपी थाना व स्थानीय बलिया थाना को दी. सूचना मिलते ही बलिया इंस्पेक्टर सह थानाध्यक्ष सुनील कुमार, पुअनि विपिन सिंह, ओमप्रकाश, टाइगर मोबाइल व पुलिस बल तथा जीआरपी एसआइ देवनाथ सिंह पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शांति व्यवस्था में लग गए. बड़ी घटना होने की वजह से बलिया डीएसपी अंजनी कुमार, एसडीओ उत्तम कुमार पुलिस बल के साथ पहुंचकर घटना का जायजा लिया. वहीं इसकी सूचना परिजनों को दी गई है. जीआरपी पुलिस ने तीनों युवकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेज दिया.