-बिजली के तारों पर पेड़ गिरे, आपूíत ठप

-बारिश के दौरान मुख्य मार्ग व गली-मोहल्ले रहे जलमग्न

मवाना : कई दिन से भीषण गर्मी से बेहाल लोगों को बुधवार उस समय राहत महसूस हुई जब अचानक आसमान में तेज हवा के साथ काले बादल छा गए. धूल भरी आंधी के साथ देखते ही देखते अंधेरा पसर गया और कुछ देर बाद ही तेज बारिश शुरू होने से हवा में ठंडक आ गई. अंधेरे के चलते दिन में ही वाहनों की लाइट जल गई. बारिश के दौरान मुख्य मार्ग समेत गली-मोहल्ले जलमग्न हो गए. बारिश थमने पर पानी की निकासी के बाद जलभराव से निजात मिली और सड़कों पर आवागमन शुरू हुआ. इस दौरान बिजली घंटों गायब रही.

अंधेरा छा गया

बुधवार को अचानक आसमान पर गड़गड़ाहट के साथ काले बादल छा गये और दोपहर बाद आंधी चली. देखते ही देखते अंधेरा छा गया और वाहनों की हेड लाइट जल गई. तेज हवा के साथ हुई मूसलाधार बारिश से मौसम में ठंडक आ गई. कुछ जगह तेज आंधी से पेड़ गिर गए और सड़क किनारे लगे होíडंग उड़ गए. हालांकि कोई जनहानि नहीं हुई.

जलभराव की समस्या

मूसलाधार बारिश के बारिश के दौरान नगर में मेरठ-पौड़ी मार्ग पर विधायक आवास के सामने, मोहल्ला मुन्नालाल में तेलियो वाला कुएं के पास, चौहान चौक, मोहल्ला हीरालाल, मखदूमपुर रोड व मोहल्ला कल्याण सिंह पांडव चौक आदि स्थानों पर पानी की निकासी न होने पर जलभराव की समस्या रही और लोग घरों में कैद हो गए. बारिश थमने पर पानी की निकासी हुई और सड़कों पर आवागमन शुरू हुआ. आंधी आते ही गुल विद्युत आपूíत देर शाम तक ठप रही.

नगर और देहात क्षेत्र के अलावा परीक्षितगढ़, हस्तिनापुर, फलावदा और बहसूमा में भी देर रात तक बूंदाबांदी होने से मौसम का मिजाज बदला और भीषण गर्मी से दो चार हो रहे लोगों ठंडक का अहसास किया.