aditya.jha@inext.co.in

PATNA: अब स्टेशन के बाहर टिकट लेना महंगा हो जाएगा. जन साधारण टिकट बुकिंग सेवा (जेटीबीएस) और यात्री टिकट सुविधा केंद्रों पर टिकट के लिए सर्विस चार्ज दोगुना कर दिया गया है. इन काउंटरों पर जनरल टिकट पर लगने वाला सर्विस चार्ज को एक रुपए से बढ़ाकर दो रुपए कर दिया है. इतना ही नहीं (एमएसटी) मंथली सीजन टिकट लेने पर भी अब अतिरिक्त चार्ज देना पड़ेगा. इसके लिए यात्रियों को हर महीने पांच रुपए अतिरिक्त चार्ज देना होगा. नई व्यवस्था 1 सितम्बर से पूरे देशभर में लागू हो जाएगी.

1 सितंबर से नई व्यवस्था लागू

बढ़ाया गया सर्विस चार्ज एक सितम्बर से पूरे भारत में लागू कर दिया जाएगा. इस व्यवस्था से भले ही जेटीबीएस ओर वाईटीएसके के ऐजेंटो को राहत मिलेगी लेकिन इससे यात्रियों कीजेब ढीली होगा.

यात्रियों की सुविधा के लिए हुई थी शुरुआत

भारतीय रेलवे ने यात्रियों को लंबी लाइन में लगने से

बचाने के लिए और बेरोजगार लोगों को रोजगार मुहैया

कराने उद्देश्य से जेटीबीएस ओर वाईटीएसके प्रणाली की शुरुआत की थी ताकि यहां पर पैसेंजर्स प्रति टिकट 1 रुपए

अतिरिक्त शुल्क देकर टिकट ले सके. इस काउंटर पर अब मंथली सीजन टिकट लेने या नवीनीकरण की सुविधा भी उपल?ध कराई गई थी.

-बिना एमएसटी वाले होंगे प्रभावी

रेलवे के इस निर्णय का असर रोजाना सफर करने वाले जनरल क्लास के पैसेंजर्स ज्यादा पड़ेगा. पटना से बिहटा जाने वाले यात्री सनोज कामत ने बताया कि रेलवे के इस निर्णय से वह यात्री ज्यादा प्रभावित होंगे जो सीजन टिकट बिना प्रतिदिन यात्रा करते हैं. रेलवे को यात्रियों के बारे में भी सोचना चाहिए.