क्‍या है रोचक पहलू
इनके दान को लेकर एक बेहद रोचक बात भी सामने आई है. वह यह कि अपने 10 साल के भतीजे की पढ़ाई की फीस भरने के बाद बाकी बची तमाम रकम को वह दान कर देंगे. एक इंटरव्यू के दौरान उन्‍होंने कहा कि वह बदलाव का उदाहरण बनना चाहते हैं. वहीं बताते चलें कि इसी क्रम में अपनी संपत्ति को दान करने वालों की इस सूची में अमेरिकी बिजनेसमैन वॉरेन बफेट, माइक्रोसॉफ्ट प्रमुख बिल गेट्स, फेसबुक के मुखिया मार्क जुकरबर्ग और ओरेकल कॉर्प के लैरी एलिसन भी शामिल हैं.

ये गुप्‍त दान पर करते हैं विश्‍वास
यहां ये भी एक बड़ा तथ्‍य है कि कुक की संपत्ति बिल गेट्स या मार्क जुकरबर्ग जितनी तो नहीं है. इसके लिए कुक कहते हैं कि उनके पास जितना भी है वे उसे ही लोगों की भलाई के लिए दान कर देना चाहते हैं. इससे बड़ी और क्‍या बात होगी. वैसे गौर करें तो चैरिटी के मामले में कुक ने हमेशा से ही सुर्खियों में आने से परहेज किया है. अक्‍सर ही वे गुप्ता दान करने वालों में से रहे हैं.

क्लिक करें इसे भी : मिलिए, दुनिया के 19 बड़े दानवीरों से

कुक किसके हित में उठाते हैं आवाज
गौरतलब है कि कुक खुद को पहले ही समलैंगिक बता चुके हैं. ऐसे में इनको कई मौकों पर लेसबियन, गे, बाइसेक्शुअल और ट्रांसेक्शुअल लोगों के अधिकारों के बारे में चर्चा करते भी देखा गया है. कुक ने एक मैगजीन को इंटरव्‍यू में बताया है कि उन्होंने चुपचाप ही अपनी संपत्ति को दान करना शुरू कर दिया है. इस बारे में वो किसी से चर्चा करना भी अच्‍छा नहीं समझते.

Hindi News from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk