दुनिया के दिग्गज टेनिस प्लेयरों में नाम
कानपुर।
टेनिस दुनिया के ऐसे बड़े खेलों में शुमार है जिसमें पुरुषों से ज्यादा महिलाओं का दबदबा रहता है। इस खेल में खिताब जीतने के मामले में महिला खिलाड़ी हमेशा आगे रहती हैं। जर्मनी की स्टेफी ग्राफ का नाम भी दुनिया के दिग्गज टेनिस प्लेयरों में आता है। बता दें कि स्टेफी ग्राफ आज यानी कि 14 जून को अपना 49वां जन्मदिन मना रही हैं। इस मौके पर हम उनसे जुड़ी कई रोचक बातें बताने जा रहे हैं।

जर्मनी के मैनहेम में हुआ जन्म
स्टेफी ग्राफ का जन्म 14 जून, 1969 को वेस्ट जर्मनी के मैनहेम में हुआ था। स्टेफी ने अपने पूरे करियर में 31 ग्रैंड स्लैम सिन्गल टाइटल मुकाबले खेले, जिसमें से उन्होंने 22 में जीत दर्ज की। इसमें 7 विंबलडन, 6 फ्रेंच ओपन, 5 यूएस ओपन और 4 ऑस्ट्रियाई ओपन शामिल हैं। 'टेलीग्राफ' के मुताबिक, स्टेफी एक ही साल में 4 ग्रैंड स्लैम और ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली (महिला-पुरूष दोनों में) टेनिस खिलाड़ी हैं। यह कारनामा उन्होंने साल 1988 में किया था।   

1982 में की थी अपने करियर की शुरुआत
स्टेफी ग्राफ अपने करियर में लगातार 377 हफ्ते तक नंबर वन खिलाड़ी रह कर मार्टिना नवरातिलोवा के 332 हफ्ते तक नंबर वन पर रहने के रिकॉर्ड को तोड़ा था। बता दें कि स्टेफी ग्राफ ने अपने करियर की शुरुआत 1982 में की थी और उनका कुल टेनिस करियर 17 वर्षों का रहा। 13 अगस्त, 1999 को स्टेफी ने इस खेल से संन्यास लेने की घोषणा कर दी थी।

ज्यादा रैंकिंग पर रिटायर होने वाली पहली टेनिस खिलाड़ी

बता दें कि स्टेफी ने जब टेनिस की दुनिया से संन्यास लिया था तब उनकी रैंकिंग 3 थी और एक सर्वे के मुताबिक, 1975 के बाद स्टेफी सबसे ज्यादा रैंकिंग पर रिटायर होने वाली पहली टेनिस खिलाड़ी थी।

सेरेना विलियम्‍स तोड़ेगीं 22 ग्रैंड स्‍लैमों का मेरा रिकॉर्ड- स्‍टेफी ग्रॉफ

हाफि‍ज सईद पर अमरीका की नजरें टेढ़ी, यह रहे टॉप 5 आतंकी जिनकी उसे है तलाश

inextlive from News Desk