-यूजी काउंसिलिंग: फीस जाम करने के बाद तीन टॉपर छात्राओं ने छोड़ा अपना दावा

इनका मन खट्टा

16वीं रैंक की छात्रा सोनिका चंदानी और 31वीं रैंक की छात्रा स्मृति तिवारी ने फीस वापस ली. एक छात्रा ने वेरीफिकेशन होने के बाद फीस जमा करने से मना कर दिया.

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

ये खबर एलयू की साख पर एक और बट्टा है. अक्सर अराजकता का शिकार बनने वाले एलयू से यूजी एंट्रेंस की तीन टॉपर्स ग‌र्ल्स कैंडीडेट्स ने ऐन मौके पर एडमिशन लेने से इंकार कर दिया. कैंपस छोड़ने पर पहले तीनों छात्राओं ने कहा कि यहां का माहौल बहुत खराब है, हम कहीं और पढ़ लेंगे. असल में सोमवार से शुरू हुई काउंसिलिंग के दौरान जमकर बवाल हुआ. काउंसिलिंग सेंटर पर व्यवस्था सही न होने की बात को लेकर छात्र नेता और यूनिवर्सिटी प्रशासन के अधिकारियों के बीच मारपीट तक हो गई. हालात इतने खराब हो गए कि, बवाली छात्रों को काबू करने के लिए पुलिस को आना पड़ा.

पहुंचा था नेतागीरी चमकाने

छात्र नेता अनुराग तिवारी अपने समर्थकों के साथ यूजी काउंसिलिंग के लिए सेंटर बनाए गए एमबीए ब्लॉक पहुंचा. काउंसिलिंग करा रहे यूनिवर्सिटी के अधिकारियों से बात करने की मांग करने लगा. इस दौरान अधिकारियों और काउंसिलिंग में लगे कर्मचारियों से कहासुनी हो गई. मामला मारपीट तक आ गया.

एक घंटे रुकी काउंसिलिंग

विवाद के चलते काउंसिलिंग को एक घंटे के लिए रोकना पड़ा. हंगामे की सूचना पाकर प्रॉक्टर मौके पर पहुंचे. छात्र नेता की इनसे भी बहस होने लगी. जिसके बाद प्रॉक्टर ने पुलिस को बुलाकर छात्र नेता को हिरासत में भेज दिया.

फीस जमा करने के बाद वापस ली

हंगामे के बाद एलयू में बीकॉम की काउंसिलिंग कराने आए टॉप स्टूडेंट्स ने फीस जमा करने के बाद एडमिशन वापस ले लिया. सेंटर प्रभारी प्रो. आरबी सिंह ने बताया कि तीन स्टूडेंट्स का सुबह पहले राउंड में एडमिशन हो गया था. जब वह फीस जमा करके बाहर निकल रहे थे. तभी हंगामा शुरू हो गया, जिसके बाद 16वीं रैंक की छात्रा सोनिका चंदानी और 31वीं रैंक की छात्रा स्मृति तिवारी ने एडमिशन कंफर्म होने के बाद फीस वापस कर ली. जबकि एक छात्रा ने वेरीफिकेशन होने के बाद फीस जमा करने से मना कर दिया. तीनों टॉपर स्टूडेंट काउंसिलिंग छोड़कर चले गए.

एलएलबी फाइव इयर की सीटें फुल

काउंसिलिंग के पहले दिन एलएलबी फाइव इयर की सभी सीटें फुल हो गई. काउंसिलिंग के लिए पहले दिन दो चरणों में 51 स्टूडेंट्स को बुलाया गया था. वहीं बीकॉम रेगुलर की 440 सीटों में पहले दिन 329 सीटें भर गई. मंगलवार को शेष 121 सीटों के लिए वेटिंग लिस्ट के स्टूडेंट्स को बुलाया गया है. वहीं बीकॉम ऑनर्स में 11 सीटें शेष बच गई है. इन सीटों को भरने के लिए मंगलवार को काउंसिलिंग होगा.

सर्वर ने कई बार किया परेशान

काउंसिलिंग के पहले दिन स्टूडेंट्स को रजिस्ट्रेशन व वेरीफिकेशन के बाद सीट लॉक करने में परेशानियों का सामना करना पड़ा. फीस जमा करने में भी समस्या सामने आई. काउंसिलिंग के दौरान कई बार सर्वर की प्रॉब्लम सामने आई. वहीं कई कैंडीडेट्स के डेबिट बैंक के पेमेंट मोड द्वारा एक्सेप्ट नहीं किए गए.