prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: लाख अवेयरनेस के बावजूद लोगों को त्योहार पर लापरवाही की सजा भुगतनी पड़ी. दिवाली पर तकरीबन तीन दर्जन लोगों के पटाखों से जलने की सूचना रही. इनमें से लूकरगंज के समीर के दाएं हाथ की अंगुलियों में हल्की चोट आई. बम छुड़ाते समय देर से फटने से उनको यह दिक्कत झेलनी पड़ी. इसी तरह कटरा के रहने वाले गूजर सिंह के साथ भी प्राब्लम हुई. उनके ऊपर जलती हुई आतिशबाजी किसी ने फेक दी जिससे उनकी गर्दन का पिछला हिस्सा जल गया. उन्हें पास कि क्लीनिक में ले जाकर इलाज कराना पड़ा. इसी तरह पटाखों के फूटने से सड़क की गिट्टियां भी राहगीरों को खूब लगी. राजरूपपुर की लता व गोरी के पैरों में गिट्टी लग जाने से उन्हें तेज दर्द का सामना करना पड़ा. बेली, काल्विन व एसआरएन हॉस्पिटल की इमरजेंसी में कुछ मरीजों ने दस्तक दी. प्राइवेट हॉस्पिटल्स में अधिक मामले पहुंचे, जहां उन्हें तत्काल इलाज मुहैया कराया गया.