चिंतन गोष्ठी में पहुंचे प्रख्यात व्यापारी, समस्याओं पर हुआ मंथन

व्यापारी हित की बात करने वाले को राजनीति में उतारने की बनी रणनीति

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: नोटबंदी, जीएसटी, राजनीति में व्यापारियों की भूमिका आदि विषयों को लेकर रविवार को पंजाबी सभा में प्रयाग व्यापार मंडल की ओर से व्यापारी चिंतन गोष्ठी का आयोजन किया गया. इसमें व्यापारियों ने विस चुनाव में अपना प्रतिनिधि उतारने की बात कही.

अलग-अलग रही सबकी राय

जीएसटी और नोटबंदी के मुद्दे पर घंटों चले मंथन में मिली-जुली राय सामने आई. कुछ व्यापारियों ने जीएसटी का समर्थन किया तो कुछ ने इसे व्यापारी विरोधी बताते हुए नियमों में संशोधन की मांग की. नोटबंदी पर भी व्यापारियों की राय जुदा-जुदा रही. अध्यक्षता प्रयाग व्यापार मंडल के अध्यक्ष विजय अरोरा ने की. मो. कादिर व सुहैल अहमद ने नोटबंदी और जीएसटी पर हमला बोला. चिंतन गोष्ठी में पूर्व मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी भी मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे. उन्होंने व्यापारी हित की बात करते हुए व्यापारियों से एकजुट होने की अपील की. आठ जनवरी को केपी ग्राउण्ड में आयोजित विशाल व्यापारी सम्मेलन 'आगाज' को सफल बनाने का आह्वान किया. इस दौरान सिविल लाइंस व्यापार मंडल के पदाधिकारी शिवशंकर सिंह, सुलेम सराय व्यापार मंडल के अध्यक्ष अनिल अनूप केसरवानी, ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल कुशवाहा, व्यापारी नेता सचिन केसरवानी, इलाहाबाद ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल दुबे, कम्प्यूटर डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष धनंजय सिंह, केमिस्ट एवं ड्रग एसोसिएशन के अध्यक्ष राणा चावला आदि ने अपनी बात रखी.

बनाएंगे व्यापारियों की टीम

चिंतन गोष्ठी में व्यापारियों की एक ऐसी टीम बनाने का निर्णय लिया गया जो किसी भी छोटे या बड़े व्यापारी के साथ दु‌र्व्यवहार की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच जाएगी. इससे कोई अधिकारी या कर्मचारी व्यापारियों का शोषण नहीं कर पाएगा.

हाउस टैक्स पर किया अलर्ट

कॉमर्शियल हाउस टैक्स जमा करने वाले सभी लोगों को अलर्ट रहने की जरूरत बताई गई. कहा गया कि कहीं ऐसा न हो कि अचानक पांच गुना अधिक टैक्स देना पड़े और एरियर भी बढ़ जाए. मिनी सदन ने बैकफुट पर आकर बढ़े टैक्स को कम करने का आदेश जारी किया है, लेकिन राज्य सरकार अभी फैसला मानने को तैयार नहीं है.

व्यापारियों की कॉमन समस्याएं

स्वाईप मशीन से ट्रांजेक्शन की बात तो की जाती है, लेकिन अक्सर मशीन काम नहीं करती

जीएसटी में रजिस्ट्रेशन का सरकार ने आदेश कर दिया है, लेकिन रजिस्ट्रेशन का फार्मेट लंबा है

अब व्यापार मंडल के पदाधिकारी हर बाजार में करेंगे चिंतन गोष्ठी

छोटे व्यापारियों को दी जाएगी जीएसटी की जानकारी

नोटबंदी से उबरने के भी बताए जाएंगे तरीके