ट्रांसपोर्ट का है काम
थाना जगदीशपुरा बोदला निवासी बाबूलाल पुत्र नरेश का मोतीकटरा में ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है। थर्सडे को बाबूलाल आईजी जोन आशुतोष पाण्डेय के पास कंप्लेन लेकर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पिछले कुछ दिनों से लगातार उनके मोबाइल पर दो अलग-अलग नंबरों से कॉल आ रहे हैं। फोनकर्ता अपना नाम ओपी त्यागी और रीतेश बता रहे हैं। 30 हजार रुपये महीना रंगदारी मांगते हैं। धमकाते हैं कि अगर महीनेदारी नहीं दी, तो वह ट्रकों को सड़क पर चला नहीं सकेगें। दोनों शातिर खुद को आरटीओ और वाणिज्यकर विभाग से बतातें हैं।
12 दिन पहले की थी मारपीट
24 जनवरी की शाम शातिरों ने उन्हें फोनकर साईं की तकिया चौराहे पर बुलाया था। वहां अपने साथियों के साथ मारपीट भी की थी। उसके बाद भी लगातार कॉल कर धमका रहे हैं। आए दिन की धमकियों से तंग वह दहशत में आ गया।

सीओ एलआईयू को सौंपी जांच
आईजी जोन ने गंभीरता से लिया। सीओ एलआईयू को मामले की जांच सौंपी है। कहा है कि कहीं ऐसा कोई गिरोह शहर तो सक्रि य तो नहीं है, जो व्यापारियों को आरटीओ और वाणिज्यकर विभाग के नाम पर रुपये वसूल रहा है। उन्होंने व्यापारी का आश्वासन दिलाया कि वह पूरे मामले से पर्दा जल्द ही उठा देंगे।