46 लाख शहर की आबादी

20 लाख गाडि़यां सड़कों पर

511 चौराहे, तिराहे शहर में

110 चौराहों पर ट्रैफिक होता है कंट्रोल

बाक्स

ट्रैफिक पुलिस की डिटेल

एएसपी - 01

ट्रैफिक सीओ - 03

ट्रैफिक इंस्पेक्टर - 09

ट्रैफिक सब इंस्पेक्टर - 08

एसआईटी - 18

ट्रैफिक कांस्टेबल - 331

आई स्पेशल

- राजधानी के व्यस्त चौराहों पर रात 12 बजे तक तैनात रहेंगे ट्रैफिक कंट्रोलर

- अभी रात 9 बजे तक ही चौराहों पर लगती है ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी

द्वड्ड4ड्डठ्ठद्म.ह्यह्मद्ब1ड्डह्यह्लड्ड1ड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

रुष्टयहृह्रङ्ख : राजधानी में कई चौराहे ऐसे हैं जहां लोगों को रात में भी जाम का सामना करना पड़ता है। लोगों को इन चौराहों पर रात के समय जाम से बचाने के लिए राजधानी पुलिस ने नई कवायद शुरू की है। अब शहर के मेन चौराहों पर रात 9 बजे के बाद भी ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी लगाई जाएगी, जिससे लोगों को जाम से राहत मिल सके।

अभी सिर्फ 9 बजे तक

शहर के करीब 110 चौराहों पर ही ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक शिफ्ट वाइज लगती है। डिपार्टमेंट का मानना है कि व्यस्त चौराहों पर सुबह 10 से दोपहर 12 बजे और शाम 5 बजे से 8 बजे तक ट्रैफिक का सबसे ज्यादा प्रेशर रहता है। इसे देखते हुए इन चौराहों पर रात 9 बजे तक की ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी लगाई जाती है।

रिसर्च में आया सामने

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि कई चौराहों का रिसर्च किया गया तो सामने आया कि रात 9 से 12 बजे तक भी कई चौराहों पर ट्रैफिक लोड अधिक रहता है। हालत यह हो जाती है कि कई बार इन चौराहों पर लोगों को जाम की समस्या का सामना करना पड़ता है।

सिविल पुलिस भी लगेगी

एसएसपी ने बताया कि इसी समस्या को देखते हुए रात 12 बजे तक इन चौराहों पर ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी लगाई जाएगी। इसके साथ ही सिविल पुलिस के जवानों को भी तैनात किया जाएगा। एसएसपी ने कहा कि यह भी देखा गया है कि जिन जगहों पर वनवे है, वहां रात 9 बजे के बाद लोग इसका पालन नहीं करते हैं। जिससे एक्सीडेंट की घटनाएं बढ़ रही हैं। जब चौराहों पर रात 12 बजे तक ट्रैफिक कंट्रोलर मौजूद रहेंगे तो वनवे का नियम तोड़ने वालों पर भी अंकुश लगेगा।

बाक्स

देर रात इन चौराहों पर प्रेशर ज्यादा

- हजरतगंज

- अवध हॉस्पिटल चौराहा, कृष्णा नगर

- चारबाग और आलमबाग चौराहा

- पॉलीटेक्निक चौराहा

- फन चौराहा, लोहिया पथ

- पत्रकारपुरम चौराहा, गोमती नगर

- हुसडि़या चौराहा

- इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहा

- मुंशीपुलिया चौराहा

- टेढ़ीपुलिया चौराहा

कोट

चौराहों पर ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी सिर्फ रात 9 बजे तक होती है। वहीं राजधानी के कुछ चौराहे ऐसे भी हैं जहां रात के समय भी जाम की समस्या सामने आती है। इसे देखते हुए अब मेन चौराहों पर रात 12 बजे तक ट्रैफिक कंट्रोलर की ड्यूटी लगाई जाएगी।

कलानिधि नैथानी, एसएसपी