-लहरतारा में रोड रिपेयरिंग के चलते लगा जबरदस्त जाम

-कैंट-लहरतारा रोड पर वनवे ने बढ़ायी मुसीबत

- सुबह से शाम तक जाम छुड़ाने के लिए जूझते रहे टै्रफिक पुलिस के जवान

varanasi@inext.co.in

VARANASI

लहरतारा में रोड की एक लेन पर हो रही रिपेयरिंग के चलते सोमवार को कैंट-लहरतारा एरिया पूरे दिन जबरदस्त जाम की चपेट में रहा. छोटे या बड़े वाहन रेंगते रहे. तेज धूप और उमस भरे मौसम में जाम में फंसे लोग हलकान होते रहे. जाम खत्म कराने के लिए टै्रफिक पुलिस के जवान जूझते रहे लेकिन उन्हें शाम तक सफलता नहीं मिली. जाम से सबसे अधिक परेशानी उस एरिया से गुजरने वाली स्कूल बसेज और वैन की हुई. इनमें सवार बच्चे गर्मी से बेहाल दिखे.

पैदल तय की दूरी

कैंट-लहरतारा रोड पर सुबह से लहरतारा ओवर ब्रिज के पास रोड रिपेयरिंग का काम शुरू हुआ. इसके चलते एक लेन को बंद कर दिया गया. दूसरे लेन पर वाहनों का दबाव अधिक होने से थोड़ी ही देर में जाम लग गया. दोनों तरफ से लगभग दो किमी तक वाहनों की लंबी लाइन लगी रही. देर तक हालत ऐसी रही कि पहिए एक हील तक नहीं सके. वाहनों में सवार पैदल लोग पैदल की कैंट रेलवे स्टेशन की ओर से बढ़ते रहे. जाम से निकलने के लिए हर परेशान दिखा. बाइक और साइकिल सवार वैकल्पिक रास्तों की तलाशते रहे. हालांकि शहर की तंग गलियों से वाकिफ लोग तो निकल जा रहे थे लेकिन जो अनजान थे वह घंटे भर जाम में फंसे रहे.

छटपटाते रहे मरीज और बच्चे

जाम इतना भीषण था कि कुछ मीटर चलने में वाहनों को कई-कई मिनट लग जा रहे थे. वाहनों की रफ्तार तो कछुआ जैसी हो गई थी. इस जाम में एंबुलेंस भी भी फंस रहा. उसमें मौजूद मरीज और परिजन जान की खैर मनाते रहे. स्कूलों की छुट्टी के बाद कई वाहन जाम में फंस गए. उसमें सवार बच्चे गर्मी से बेहाल हो रहे थे. जिनका घर आसपास था उनके गार्जियन आए और पैदल ही बच्चे को ले गए. ट्रैफिक पुलिस भी बहुत देर तक वाहनों को क्रमबद्ध कराने को लेकर प्रयासरत रहे. आसपास के लोग भी जाम छुड़ाने के लिए सड़क पर उतर गये थे. शाम के पांच बजे तक जाम की स्थिति बनी रही. शाम ढलने पर वाहनों की भीड़ रोड पर थोड़ी कम हुई तो जाम से निजात मिल पायी.