RANCHI : युवाओं को अब स्टार्ट अप शुरु करने में पैसे की किल्लत रोड़ा नहीं बनेगी। अगर आपके पास यूनिक आइडिया है तो कोलकाता स्थित यूएस काउंसिलेट और अटल बिहारी वाजपेयी इनोवेशन लैब आपके स्टार्ट अप को उड़ान भरने में मदद करेगी। यूएस काउंसिलेट द्वारा न सिर्फ युवाओं को स्टार्ट अप शुरु करने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी, बल्कि फंड भी उपलब्ध कराया जाएगा। ऐसे में युवाओं की यूनिक आइडिया को स्टार्ट अप के रुप में मंजिल मिलने की राह आसान हो जाएगी।

बनाए जाएंगे कैंपस अंबेसडर

अटल बिहारी वाजपेयी इनोवेशनल लैब की रचना भारद्वाज ने बताया कि सिटी के प्रमुख कॉलेजों और इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स को यूएस काउंसलेट की ओर से पहले कैंपस अंबेसडर के रुप में सेलेक्ट किया जाएगा। इसके उपरांत इन कैंपस अंबेसडरों को ही स्टार्टअप शुरू करने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग के बाद उनके आइडिया को हर तरह की मदद की जाएगी। इस बाबत यूएस काउंसलेट के साथ ज्वाइंट एसोसिएशन बनाया गया है।

30 स्टूडेंट्स का होगा सेलेक्शन

अटल बिहारी वाजपई इनोवेशन लैब और यूएस काउंसलेट कोलकाता मिलकर राज्य के स्टार्टअप को मदद कर रहे हैं। इसके तहत रांची में रांची सहित पूरे राज्य में कॉलेजों और इंस्टीट्यूट्स में 30 कैंपस अंबेसडर का चयन किया जाएगा। इन्हें स्टार्टअप के तहत जरूरी सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

अमेरिकन सेंटर दिल्ली भी आगे आई

स्टार्ट अप के लिए चयनित प्लान को नई दिल्ली स्थित अमेरिकन सेंटर से भी हर तरह की सुविधा व मदद दी जाएगी। इसके लिए प्लान बनाने वाले युवाओं को तकनीक के साथ फंड भी मुहैय्या कराया जाएगा, ताकि उनके प्लान को अमलीजामा पहनाया जा सके।

ट्रेनिंग के मार्फत बनाएंगे एक्सपर्ट

जो 30 स्टार्टअप का चयन किया जाएगा, उसके लिए सबसे पहले प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाएगी.यूएस काउंसलेट और अटल बिहारी बाजपेई इनोवेशन लैब के एक्स्पर्ट की ओर से सेलेक्टेड स्टार्टअप करने वाले युवाओं को मदद की जाएगी। एक्सपर्ट द्वारा स्टार्टअप शुरू करने वालों को यह बताया जाएगा कि कैसे फंड जेनरेट किया जाता है। कैसे मार्केटिंग स्ट्रेटजी बनाई जाती है और कैसे प्रोडक्ट को तैयार किया जाता है।