ट्रांसपोर्ट नगर छोटे वाहन मालिकों ने काटा हंगामा

-बेरोजगार लेबरों ने भी हड़ताल खत्म करने की मांग की

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल के पांचवें दिन माल ढुलाई वाहनों के मालिकों का धैर्य जवाब दे गया. मंगलवार को उन्होंने ट्रांसपोर्टर नगर में जमकर हंगामा किया. उन्होंने ट्रकों की हड़ताल खत्म करने की मांग की. इस पर ट्रांसपोर्टर्स ने अपनी मजबूरियां गिना दीं. उनका कहना था कि जब तक सरकार उनकी मांगों को मान नही लेती वह पीछे नही हटेंगे. वाहन मालिकों के साथ लेबरों ने भी हड़ताल का विरोध किया.

बंद हो गया भाड़ा, कैसे चलेगा घर

बता दें कि ट्रांसपोर्ट नगर में छोटे वाहनों पर रोजाना माल ढुलाईकर तकरीबन एक हजार लोग अपना पेट पालते हैं. इनमें ड्राइवर और हेल्पर दोनों शामिल हैं. इसके अलावा पांच सौ से अधिक लेबर हैं जो वाहनों से लोडिंग-अनलोडिंग के जरिए अपना घर चलाते हैं. पांच दिन से ट्रांसपोर्टर्स की हड़ताल होने से इनकी भुखमरी की नौबत आ गई है. परिवार का पेट पालना इनके लिए मुश्किल हो रहा है. यही कारण है कि इन सभी ने ट्रांसपोर्ट नगर में विरोध दर्ज कराया.

फंसा व्यापारियों का माल

उधर, गोदामों में व्यापारियों का माल फंसा होने से उनकी हालत खराब है. दुकानों में माल खत्म होने से उनको समझ नही आ रहा कि क्या करें? मुंडेरा फल मंडी के महामंत्री बच्चा यादव कहते हैं कि सबसे पहले फलों की क्राइसिस होगी, क्योंकि मंगलवार को माल नही आया. कई व्यापारियों का भुसावल और बिहार से केला लोड होना था लेकिन गाडि़यों की हड़ताल से इलाहाबाद नही आ सका. अगर यही हाल रहा तो लोगों को जल्द ही महंगे फल खाने पड़ सकते हैं.

लोगों की मजबूरियां समझ में आ रही हैं लेकिन जब तक केंद्रीय नेतृत्व हरी झंडी नही देगा हड़ताल खत्म नही होगी. सरकार ने अभी तक हमारी मांगों पर कोई ध्यान नही दिया है. इस हड़ताल से शहर में हजारों लोग बेरोजगार हो गए हैं.

-अनिल कुशवाहा, अध्यक्ष, ट्रांसपोर्ट यूनियन इलाहाबाद