26 विभन्न मुद्राओं में करीब 30 मिलियन डॉलर कैश जब्त
कुआलालंपुर (एएफपी)।
पुलिस ने बुधवार को बताया कि मलेशिया के घोटाला मामले से जुड़ी पूर्व पीएम नजीब रजाक की संपत्तियों पर छापेमारी की गई, उस दौरान कैश, आभूषण और लक्जरी हैंडबैग समेत कई महंगे सामान जब्त किये गए। पुलिस के मुताबिक, बरामद हुए सामानों की कीमत करीब 273 मिलियन डॉलर (करीब 1800 करोड़ रुपये) है। 1एमबीडी घोटाले की जांच को लेकर हुई छापेमारी के दौरान 12,000 पीस भारी गहने, 26 विभन्न मुद्राओं में करीब 30 मिलियन डॉलर कैश, 400 से अधिक घड़ियां जिनकी कीमत 19.3 मिलियन डॉलर होगी और कई महंगे डिजाइनर सामान जब्त किये गए।  

इतिहास में यह सबसे बड़ी जब्ती
मलेशियाई पुलिस विभाग में वाणिज्यिक अपराध जांच के प्रमुख अमर सिंह ने कहा, 'मुझे लगता है कि मलेशियाई इतिहास में यह सबसे बड़ी जब्ती है।' उन्होंने कहा कि छापेमारी के दौरान 910 मिलियन रिंगगिट ($ 225 मिलियन) और 1.1 बिलियन रिंगगिट ($ 273 मिलियन) के बीच संपत्ति जब्त की गई है। बता दें कि मलेशिया में अरबों डॉलर के हुए घोटाले की जांच के सिलसिले में अब तक पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक और उनकी पत्नी रोसमा मंसूर से भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी ने कई बार पूछताछ की है लेकिन दोनों ने घोटाले के आरोप को नकार दिया है।

सरकारी कंपनी से 70 करोड़ डॉलर निजी खाते में ट्रांसफर कराए
साल 2009 से मई 2018 तक मलेशिया के प्रधानमंत्री रहे नजीब पर आरोप है कि उन्होंने 1 मलेशिया डेवलपमेंट बर्हाड (एमडीबी) सरकारी कंपनी से 70 करोड़ डॉलर (करीब 4,760 करोड़ रुपये) अपने निजी खाते में ट्रांसफर कराए थे। इन घोटालों के चलते ही उन्हें पिछले महीने हुए आम चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद 92 वर्षीय महातिर मुहम्मद देश के प्रधानमंत्री बने। नई सरकार ने घोटालों की जांच के आदेश दिए। इस कड़ी में नजीब के घर पर छापेमारी हुई, जिसमें नोटों से भरे कई बैग, आभूषण और महंगे हैंडबैग बरामद हुए।


मलेशिया में कट जाएगा कैबिनेट मंत्रियों के वेतन का 10 प्रतिशत

10 मिलियन डॉलर के घोटाले में एंटी करप्शन टीम का सामना करेंगे पूर्व मलेशियाई प्रधानमंत्री नजीब रजाक

International News inextlive from World News Desk