मुंबई (ब्‍यूरो)। अभिनेत्री से लेखिका व निर्माता बनीं ट्विंकल खन्ना का कहना है कि उनकी सारी फिल्में, जिनमें उन्होंने लीड रोल किया है, उन्हें बैन कर देना चाहिए, ताकि कोई वे फिल्में न देख सके। अभिनेत्री ने वर्ष 1995 में फिल्म 'बरसात' से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद 'इतिहास', 'जुल्मी' और 'मेला' जैसी फिल्में भी कीं, जो बॉक्स ऑफिस पर सफल नहीं हुई। 
अपनी किसी फिल्म का रीमेक नहीं चाहतीं ट्विंकल 
अभिनेता अक्षय कुमार के साथ 2001 में शादी करने के बाद उन्होंने अपने फिल्मी करियर को अलविदा कह दिया। यह पूछने पर कि उनकी कौन-सी फिल्म को दोबारा बनाना चाहिए, वह कहती हैं, 'हकीकत में मैंने एक भी हिट फिल्म नहीं दी है। मैं सोचती हूं कि मेरी सारी फिल्में बैन कर देनी चाहिए, ताकि कोई उन्हें न देख सके।' 

किताबें लिख रहीं हैं ट्विंकल 
गौरतलब है कि ट्विंकल आजकल किताबें लिख रही हैं। उनकी किताब 'द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद' छोटी-छोटी कहानियों की संग्रह थी, जिसमें से एक कहानी पर फिल्म 'पैडमैन' बनी थी। ट्विंकल का कहना है कि वह नहीं चाहतीं कि उनकी हर कहानी पर फिल्म बने। उन्हें लिखने की रुचि है। अपनी किताब 'मिसेज फनीबोन्स' के बारे में ट्विंकल ने कहा, 'यह मेरी तीसरी किताब है। जब मैं अपने सारे कामों को देखती हूं, तो ऐसा लगता है कि कोई महिला इस दुनिया में अपना स्थान ढूंढ़ रही है। मेरे लिए ऐसे विषय रुचिकर होते हैं, जिसमें महिला खुद को ढूंढ़ती है, न कि किसी पुरुष को।' 
दो बच्चों की मां हैं ट्विंकल 
 ट्विंकल आरव और नितारा की मां भी हैं। मां होने के नाते अपनी बेटी को वह क्या संदेश देना चाहती हैं? इस पर ट्विंकल कहती हैं, 'मुझे नहीं लगता कि ऐसा कुछ है, जो मैं देना चाहती हूं। आप उनके लिए खुद एक अच्छा उदाहरण बनें, यही बच्चों के लिए सबसे बड़ी सीख होगी।

मुंबई (ब्‍यूरो)। अभिनेत्री से लेखिका व निर्माता बनीं ट्विंकल खन्ना का कहना है कि उनकी सारी फिल्में, जिनमें उन्होंने लीड रोल किया है, उन्हें बैन कर देना चाहिए, ताकि कोई वे फिल्में न देख सके। अभिनेत्री ने वर्ष 1995 में फिल्म 'बरसात' से बॉलीवुड में कदम रखा था। इसके बाद 'इतिहास', 'जुल्मी' और 'मेला' जैसी फिल्में भी कीं, जो बॉक्स ऑफिस पर सफल नहीं हुई। 

अपनी किसी फिल्म का रीमेक नहीं चाहतीं ट्विंकल 

अभिनेता अक्षय कुमार के साथ 2001 में शादी करने के बाद उन्होंने अपने फिल्मी करियर को अलविदा कह दिया। यह पूछने पर कि उनकी कौन-सी फिल्म को दोबारा बनाना चाहिए, वह कहती हैं, 'हकीकत में मैंने एक भी हिट फिल्म नहीं दी है। मैं सोचती हूं कि मेरी सारी फिल्में बैन कर देनी चाहिए, ताकि कोई उन्हें न देख सके।' 

किताबें लिख रहीं हैं ट्विंकल 

गौरतलब है कि ट्विंकल आजकल किताबें लिख रही हैं। उनकी किताब 'द लीजेंड ऑफ लक्ष्मी प्रसाद' छोटी-छोटी कहानियों की संग्रह थी, जिसमें से एक कहानी पर फिल्म 'पैडमैन' बनी थी। ट्विंकल का कहना है कि वह नहीं चाहतीं कि उनकी हर कहानी पर फिल्म बने। उन्हें लिखने की रुचि है। अपनी किताब 'मिसेज फनीबोन्स' के बारे में ट्विंकल ने कहा, 'यह मेरी तीसरी किताब है। जब मैं अपने सारे कामों को देखती हूं, तो ऐसा लगता है कि कोई महिला इस दुनिया में अपना स्थान ढूंढ़ रही है। मेरे लिए ऐसे विषय रुचिकर होते हैं, जिसमें महिला खुद को ढूंढ़ती है, न कि किसी पुरुष को।' 

दो बच्चों की मां हैं ट्विंकल 

ट्विंकल आरव और नितारा की मां भी हैं। मां होने के नाते अपनी बेटी को वह क्या संदेश देना चाहती हैं? इस पर ट्विंकल कहती हैं, 'मुझे नहीं लगता कि ऐसा कुछ है, जो मैं देना चाहती हूं। आप उनके लिए खुद एक अच्छा उदाहरण बनें, यही बच्चों के लिए सबसे बड़ी सीख होगी।

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk