दिनदहाड़े छह बदमाशों ने दिया घटना को अंजाम

दानिश की मौके पर ही मौत, दूसरा भाई वेंटीलेटर पर

meerut@inext.co.in

MEERUT : बाइक पर सवार छह बदमाशों ने मंगलवार शाम स्कूटी सवार दो सगे भाइयों पर अंधाधुंध गोलियां बरसा दीं, जिससेएक भाई की मौत हो गई, जबकि दूसरे भाई को गंभीर हालत में एक निजी नर्सिग होम में भर्ती कराया. बताया जा रहा है कि युवकों का क्रिकेट मैच को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद यह सनसनीखेज वारदात सामने आई. मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया. नौचंदी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया.

यह है मामला

बताते है कि मुनकाद अली अपने परिवार के साथ लोहिया नगर के बुद्धा गार्डन में रहते हैं. उनके दो बेटे दानिश व सुहैब है. वे कॉलोनी में ही प्रॉपर्टी डीलर का काम करते है. साथ ही वे पढ़ाई भी कर रहे हैं. मंगलवार की देर शाम को दानिश व सुहैब स्कूटी में सवार होकर लोहिया नगर बुद्धा गार्डन स्थित अपने घर जा रहे थे. शास्त्रीनगर सेक्टर 10 स्थित चार बाइक पर छह बदमाशों ने उन्हें रोक लिया और दोनों सगे भाइयों पर अंधाधुंध फायर करना शुरू कर दिया. गोली लगते ही दोनों भाई खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़े. दोनों को मृत समझकर सभी बदमाश हथियार लहराते हुए बाइकों पर सवार होकर भाग लिए. स्थानीय लोगों ने पुलिस को जानकारी दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया. खून से लथपथ दोनों भाइयों को उपचार के लिए नर्सिग होम में भर्ती कराया. जहां पर दानिश की मौत हो गई. सुहैब की हालत भी नाजुक बनी हुई है.

मौके पर पहुंचे एसएसपी

दो भाइयों पर गोलीबारी की सूचना पर मौके पर पहुंचे एसएसपी राजेश कुमार पांडे ने घटनास्थल का जायजा लिया. नौचंदी थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया. एसएसपी राजेश कुमार पांडे ने बताया कि छानबीन में निकल कर आया है कि दानिश व सुहैब क्रिकेट मैच खेलने के लिए सीसीएस यूनिवर्सिटी गए थे. मंगलवार की शाम को उनका मैच खेल रहे युवकों ने कहासुनी के बाद झगड़ा हो गया था. वहां पर दोनों ने एक दूसरे को भुगत लेने की धमकी दी थी. पुलिस उन युवकों की तलाश कर रही है.

प्रॉपर्टी का विवाद

पुलिस के मुताबिक दानिश के पिता मुनकाद अली का प्रॉपर्टी को लेकर मुजीब व शाहनवाज से विवाद चल रहा है. इस बिंदु पर भी तफ्तीश चल रही है.

लगातार दूसरे दिन मर्डर

6 अगस्त, सोमवार को भी सोहराब गेट पुलिस चौकी के पास एक भतीजे ने अपने दोस्त के साथ अपनी बुआ पर अंधाधुंध गोलियां बरसाकर मर्डर कर दिया था.