30-40 गांव निशाने पर
पाकिस्तानी गोलीबारी में 30 से 40 गांव निशाने पर थे। गुरुवार को हुई गोलीबारी के दौरान बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया और 17 साल की
एक लड़की की मौत हो गई। शुक्रवार को भी पाकिस्तान ने अपनी हरकत दोहरा दी। इन सबके बीच जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने चिंता जतातेहुए कहा कि सीमा पर रिहायशी इलाकों में हो रहे सीजफायर उल्लंरघन दुखद हैं और जल्द ही भारत-पाकिस्तान को इस बारे में बात कर इसका हल निकालना होगा।

शहादत को नहीं होने देंगे जा़या
भारत ने जवाबी फायरिंग में पाकिस्तान के कई पोस्ट और बंकर तबाह कर दिये। डीजी केके शर्मा ने कहा कि हम चुप नहीं बैठेगें, अपने जवान की शहादत जा़या नहीं होने देगें। डीजी बोले हमारी तरफ से हुई फायरिंग में दुश्मन का बहुत नुकसान हुआ है। भारत ने कभी भी पहले सीजफायर उल्लंघन नहीं किया, उस तरफ से ही पहले शुरुआत होती है। इस बार भी शुरुआत पाकिस्तान की तरफ से ही हुई।

गांव ले जाया गया शहीद बीएसएफ जवान का पार्थिव शरीर
गोलीबारी के दौरान शहीद जवान बीएसएफ की 78वीं बटालियन का हेड कॉन्सटेबल ए सुरेश था। उनका पार्थिव शरीर उनके मूल गांव तमिलनाडु के धर्मापुरी ले जाया गया है।

गोलीबारी की आड़ में घुसपैठ की कोशिश

नए साल में पाकिस्तान 80 बार सीजफायर उल्लं घन कर चुका है। गोलीबारी की आड़ में पाकिस्तान आतंकवादियों की भारत में घुसपैठ कराने की कोशिश करता है। 2017 में पाकिस्तान 881 बार सीजफायर का उल्लंरघन कर चुका है। घुसपैठ की कोशिश में पिछले साल 59 आतंकवादी मारे गए जबकी इस साल अभी तक 11 मारे जा चुके हैं। 2017 में भारत ने 33 बार घुसपैठ को नाकाम भी किया है।

National News inextlive from India News Desk