मेजा तहसील में दो लेखपालों को किया गया निलंबित

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: हड़ताल पर गए लेखपालों को लेकर डीएम सख्त हो गए हैं. शुक्रवार को संगम सभागार में स्टाफ समीक्षा बैठक में उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि नए लेखपालों को सही तरीके से कार्य नहीं कर पाने पर उनको तहसील वाइज नोटिस दिया जाए. उन्होंने कहा कि जनता को किसी भी प्रकार के प्रमाणपत्र बनवाने में परेशान नहीं आनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि बिना कारण जमीनों के सर्किल रेट में भी बढ़ोतरी नहीं की जानी चाहिए.

प्रतिदिन चेक होगी पत्रावली

बैठक में डीएम ने एसीएम द्वितीय को रोजाना पत्रावली चेक करने का समय देने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि पदाधिकारियों के निलंबन का आदेश जारी कर दिया जाए. कहा कि संज्ञान में आया है कि चकबंदी लेखपालों द्वारा रिश्वत लेने के वायरल वीडियो की जांच सीआरओ से कराई जाए. राजस्वों की वसूली सही ढंग से न कर पाने के कारण ने वरिष्ठ निलंबन लिपिक का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं. साथ ही द्वितीय निबंधन के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए हैं. ईआरके को निर्देश दिया कि आपदा बाबू से संबंधित फाइलें अपने अपने तहसीलों से मंगाकर अवलोकन करें. तहसील दिवस में आने वाली शिकायतों के निस्तारण की जिम्मेदारी उन्होंने एसडीएम को सौंपी है.

लेखपालों के नाम चार्जशीट देने के आदेश

मेजा तहसील में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दो लेखपालों को कार्य में लापरवाही बरतने पर निलंबित करने करने की जानकारी दी. इस पर डीएम ने दोनों को चार्जशीट देने के आदेश दिए. उन्होंने कहा कि सरकारी गल्ले की दुकान अधिक दिन तक निलंबित नही की जाए. ऐसा करते हैं तो उसकी जगह दूसरी दुकान को तुरंत चालू करा दिया जाए.