सोशल मीडिया पर दिन भर छाया रहा एक ही अभ्यर्थी के दो मार्कसीट का मामला

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सूबे में परिषदीय स्कूलों में सहायक अध्यापक के पदों पर आयोजित लिखित परीक्षा के परिणाम आने के बाद से लगातार नए खुलासे हो रहे हैं. बुधवार को सोशल मीडिया वाट्सएप पर पूरे दिन एक ही अभ्यर्थी के दो मार्कशीट की धूम रही. प्रज्ञा यादव नाम की अभ्यर्थी को एक मार्कशीट में जहां सिर्फ 82 अंक मिले थे, वहीं दूसरी मार्कशीट में उसके अंक 148 दिखाई दे रहे हैं. सोशल मीडिया में मार्कशीट वायरल होते ही हड़कंप मच गया.

दिन भर लोग करते रहे कमेंट

सोशल मीडिया पर हर कोई अपनी अलग-अलग राय रखता रहा. कोई मार्कशीट को फेक बताता रहा तो कोई इसे सही ठहराने में जुटा रहा. देर शाम तक वायरल हुई मार्कशीट की दोनों प्रतियों को लेकर स्थिति साफ नहीं हो सकी. वहीं अधिकारियों से इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने ऐसे मामले की जानकारी से ही इंकार कर दिया.

बॉक्स

अभ्यर्थियों से मांगे साक्ष्य

शिक्षक भर्ती में गड़बड़ी और फर्जीवाड़े का मामला सामने आने के बाद शासन की तरफ से बनी उच्च स्तरीय जांच कमेटी ने अभ्यर्थियों से साक्ष्य मांगे हैं. जांच समिति के अध्यक्ष प्रमुख सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग संजय आर भूसरेड्डी ने सभी प्रभावित अभ्यर्थियों से किसी भी प्रकार के साक्ष्य को जांच कमेटी के सामने रखने की अपील की है. जांच कमेटी अध्यक्ष की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में अनियमितताओं के संबंध में यदि कोई अभिलेख अथवा साक्ष्य प्रस्तुत करना चाहता हो तो वह कार्यालय आयुक्त, गन्ना एवं चीनी के कैंप कार्यालय में 13 सितंबर से 19 सितंबर के बीच सुबह साढ़े नौ बजे से 11 बजे के बीच प्रस्तुत होकर दे सकता है.