क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : राजधानी में पानी की किल्लत बहुत जल्द दूर होने वाली है. शहर की आधी आबादी को पानी पिलाने वाले रुक्का डैम प्लांट में दो नए मोटर लगाए जा रहे हैं. दो नए मोटर लग जाने के बाद वाटर सप्लाई की स्थिति सामान्य हो जाएगी. फि लहाल यहां चार मोटर लगे हैं, जिसमें दो मोटर अक्सर खराब रहते हैं, जिस कारण वाटर सप्लाई अक्सर प्रभावित रहती है.

पुराने मोटर की होगी मरम्मत

रुक्का डैम के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर प्रभात कुमार सिंह ने बताया कि यहां पानी का स्तर काफी बेहतर है. लेकिन, सभी मोटर के काम नही करने की वजह से प्रॉपर वे में वाटर सप्लाई नहीं हो पाती है. ऐसे में दो नए मोटर लगाए जा रहे हैं, वहीं पुराने मोटर की भी मरम्मत कराई जाएगी. इसके उपरांत यहां से छह मोटर के जरिए वाटर सप्लाई शुरू की जाएगी.

मोटर में खराबी से सप्लाई प्रभावित

कभी मोटर में खराबी तो कभी उसके मरम्मत व मेंटनेंस की वजह से रुक्का डैम से वाटर सप्लाई बाधित होती रहती है. इस वजह से इस गर्मी में भी लोगों को पानी की किल्लत झेलनी पड़ रही है. आने वाले दिनों में वाटर सप्लाई डिस्टर्ब नहीं हो, इसके लिए दो नए मोटर लगाने के साथ खराब मोटर की मरम्मत की कवायद की जा रही है.

रुक्का डैम से कहां-कहां वाटर सप्लाई

रूक्का डैम से दीपाटोली, कोकर, कांटाटोली, बहुबाजार, सिरम टोली, ओवर ब्रिज, डोरंडा्र, हिनू, बिरसा चौक, एचइसी कालोनी, धुर्वा, हवाई नगर, हेसाग, सिंहमोड़, हटिया, हरमू और अशोक नगर क्षेत्र की पेयजलापूर्ति होती है. साथ ही कोकर, कांटाटोली का पूरा इलाका में भी रूक्का डैम से ही सप्लाई होती है.