-दो पशुओं को खींचकर ले जा रहे थे, ग्रामीणों के पूछने पर भिड़े तस्कर

-ग्रामीणों ने तस्करों को पुलिस के हवाले किया, अन्य तस्करों को ढूंढ़ने में जुटी पुलिस

बिथरी- गोवंशीय पशुओ को चोरी कर कटान को ले जा दो पशु तस्करों को ग्रामीणों ने दौड़ाकर पकड़ लिया । जबकि उनके तीन साथी भाग गए। ग्रामीणों ने इसकी सूचना विधायक पप्पू भर्तोल को दी। विधायक के फोन पुलिस मौके पर पहुंच गयी। ग्रामीणों ने दोनों तस्करों को पुलिस के हवाले कर दिया।

काटने को ले जा रहे थे पशु

मंगलवार शाम तड़वा गांव में पशु तस्कर दो गोवंशीय पशुओं को जबरन बांध कर घसीटते हुए ले जा रहे थे। कमुआ निवासी राजू गांव के ही कुछ लोगों के साथ वहां से गुजर रहे थे। उन्हें इस प्रकार पशुओं को ले जाते शक हुआ। उन्होनें पशु तस्करों को रुकने को कहा तो तस्कर भागने लगे तो राजू ने अपने साथियों के साथ पशु तस्करों को पकड़ने की कोशिश की । इससे पशु तस्कर राजू और उसके साथियों से भिड़ गए।

विधायक को दी सूचना

शोर शराबा सुनकर खेतों में काम कर रहे लोग आ गए। इसके बाद ग्रामीणों ने दो पशु तस्करों को खेतों में दौड़कर पकड़ लिया। जबकि उनके तीन साथी भाग गया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना बिथरी विधायक पप्पू भर्तोल को दी। विधायक के फोन पर पुलिस मौके पर पहुंच गई।

तस्करों की तलाश में जुटी पुलिस

सूचना पर विश्व हिन्दू परिषद के महामंत्री राजेन्द्र कनौजिया भी अपने कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंच गए। पुलिस दोनो तस्करों को पकड़ कर थाने ले आई। पूछताछ में पकड़े गय तस्करों ने अपना नाम सरताज अली और शहीद अहमद निवासी मलपुर बताया। इंस्पेक्टर वीरेन्द्र सिंह ने बताया मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अन्य तस्करों की तलाश की जा रही है ।