जीआरपी ने दर्ज किया केस, जांच पड़ताल शुरू, मां और भाई संग मुंबई जा रही थीं किशोरियां

GORAKHPUR: गोरखपुर जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर नौ से दो सगी बहनों का अपहरण हो गया. दोनों बहनें अपने भाई संग मां का उपचार कराने मुंबई जा रही थीं. ट्रेन छूटने के पहले अचानक दोनों लापता हो गईं. सगी बहनों के गायब होने से परेशान मां और भाई ने जीआरपी को सूचना दी. उत्तर प्रदेश पुलिस के ट्विटर एकाउंट पर सूचना देकर मदद की गुहार लगाई. नाबालिग किशोरियों के अपहरण की सूचना दर्ज करके जीआरपी मामले की छानबीन में जुटी है. इंस्पेक्टर ने बताया कि किशोरियों के अपहरण के शक में दो युवकों की तलाश की जा रही है.

मुंबई में बिजनेस करते हैं पिता व भाई

महराजगंज जिले के बृजमनगंज क्षेत्र के एक गांव के तीन भाई मुंबई में बिजनेस करते हैं. उनके पिता, मां और दो नाबालिग बहनें गांव पर रहती हैं. कुछ दिनों पूर्व युवकों की मां की तबियत खराब हो गई. मां की तबियत बिगड़ने की सूचना पर बेटों ने मुंबई के लीलावती अस्पताल में उपचार कराने का प्लान बनाया. मां और बहनों को मुंबई ले जाने के लिए एक भाई घर आया. उसने मुंबई जाने वाली ट्रेन में रिजर्वेशन कराया. 18 तारीख की देर शाम मां और बहनों संग मुंबई की ट्रेन पकड़ने के लिए वह रेलवे स्टेशन पहुंचा.

स्टेशन पर मच गया हड़कंप

जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर नौ पर ट्रेन खड़ी हुई. ट्रेन चलने के पहले युवक पानी लेने चला गया. उसी समय बेटियों को सामान देखने की हिदायत देकर मां टॉयलेट चली गई. कुछ देर बाद मां-बेटे लौटे तो दोनों बहनें गायब थीं. परेशान हाल मां और बेटे ने दोनों की तलाश जंक्शन पर की. उनको तलाशने के चक्कर में ट्रेन भी चली गई. घंटों परेशान होने के बाद मां-बेटे ने जीआरपी को सूचना दी. मां ने मुंबई में रह रहे बेटों को घटना से अवगत कराया. प्लेटफॉर्म से किशोरियों के अपहरण की सूचना से परिजन परेशान हो गए. यूपी पुलिस को सूचना देकर कार्रवाई की गुहार लगाई. नाबालिग किशोरियों को बहला-फुसलाकर अपहरण करने की सूचना दर्ज करके जीआरपी कार्रवाई में जुटी है.

वर्जन

परिजनों ने दो नामजद युवकों के खिलाफ सूचना दी है. उनके खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर लिया गया है. जल्द ही किशोरियों को बरामद करके परिजनों को सौंप दिया जाएगा.

- राणा राजेश सिंह, एसएचओ, जीआरपी