आगरा. थाना सदर और सिकंदरा से दो युवकों के गायब हो जाने से सनसनी मची हुई है. सिकंदरा से युवक को कुछ लोग काम के एडवांस दिलाने के बहाने व सदर से नौकरी लगवाने के बहाने कुछ युवक ले गए. दोनों ही युवक घर वापस नहीं लौटे. इस मामले में परिजनों ने थाने पर अपनी शिकायत दी है. पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है.

काम के बहाने बुला ले गए

सेक्टर-14 प्रधान जी की बगीची निवासी 20 वर्षीय विष्णु पुत्र स्व. लाखन सिंह की कारगिल पेट्रोल पम्प के पास फूलों की दुकान है. वह डेकोरेशन का काम करता है. बुधवार की शाम 6 बजे उसे राधा नगर व केके नगर निवासी समेत तीन लोग घर से ये बोल कर ले गए कि डेकोरेशन का काम आया है. वह उसे एडवांस दिला देंगे. इसके बाद वह उनके साथ चला गया. इसके बाद वह देर रात घर नहीं लौटा और न ही साथ गए युवक वापस आए. परिजनों ने मामले में पुलिस से शिकायत की. पुलिस ने साथ गए युवकों के परिजनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है.

जॉब के लिए निकला था

थाना सदर स्थित रोहता निवासी 23 वर्षीय राम प्रकाश पुत्र महेश चंद रावत नौकरी की तलाश में था. पिता डिफेंस में कार्यरत हैं. 22 अप्रैल को वह घर से संजय प्लेस जाने की बात बोल कर निकला था साथ ही वह बमरौली अहीर के दो युवकों के साथ जाने की बात बोल रहा था. वह साथ में अपने दस्तावेज भी ले गया था. इसके बाद से वह घर नहीं लौटा. न लौटने पर परिजनों को चिंता हो गई. परिजनों ने मामले में थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई है. लेकिन अभी तक पुलिस उसका सुराग नहीं लगा सकी है. बड़े भाई सूरज ने बताया कि वह चार भाईयों में तीसरे नम्बर का है. उसके गायब हो जाने से मां भूरी देवी का बुरा हाल है.