-जेईई व नीट की एनटीए के टेस्ट सेंटर पर चलेगी क्लास

-यूजीसी नेट के कैंडीडेट्स को मॉक टेस्ट का मिलेगा मौका, रजिस्ट्रेशन शुरू

1ड्डह्मड्डठ्ठड्डह्यद्ब@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

ङ्कन्क्त्रन्हृन्स्ढ्ढ

मेधावियों को अब अपना करियर संवारने में कोचिंग आड़े नहीं आएगा. जेईई व नीट के छात्रों को 2019 से उच्च शिक्षा के लिए होने वाली परीक्षाओं की कोचिंग को परेशान होने की जरूरत नहीं है. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी उच्च शिक्षण संस्थानों में एडमिशन के लिए होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं को मुफ्त आयोजित करवाएगी. अपनी इस योजना के लिए एजेंसी अपने टेस्ट सेंटर को एजुकेशन सेंटर में बदलने जा रही है. ऐसे में यहां पर अब क्लासेस संचालित होगी. आठ सितंबर से इस प्रोजेक्ट पर कार्य शुरू हो जाएगा.

रजिस्ट्रेशन 30 सितंबर तक

मेधावियों तक सीधी पहुंच बनाने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी अपना मोबाइल एप और ऑफिशियल वेबसाइट एक सितंबर को जारी कर दिया है. एक सितंबर को ही एजेंसी यूजीसी नेट 2019 और जेईई मेन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर दिया है. यह प्रॉसेस पूरे एक महीने यानी 30 सितंबर तक चलेगा. खास बात यह कि प्रैक्टिस सेंटर पर पहली बार स्टूडेंट्स को सिर्फ और सिर्फ यूजीसी नेट के लिए मॉक टेस्ट देने का मौका देगा. वहीं नीट-यूजी कंप्यूटर बेस्ड एग्जाम नहीं है इसलिए इसके लिए कोई मॉक टेस्ट नहीं होगा.

कोई फीस नहीं लगेगी

-एनटीए में चलने वाली कोचिंग में किसी भी प्रकार की कोई फीस जमा नहीं करना होगा.

-इकोनॉमिकल कंडीशन के चलते जो मेधावी छात्र कोचिंग में एडमिशन नहीं ले पाते वे अब आसानी से जेईई व नीट कोर्स को करने में परेशान नहीं होंगे.

-भारी भरकम फीस देकर अब प्राइवेट कोचिंग सेंटर में पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी.

खुद करें रजिस्ट्रेशन

- जेईई-मेन 2019के लिए छात्रों को मॉक टेस्ट का सामना करना होगा.

-इसके लिए छात्रों को मोबाइल एप या वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा.

-जैसे ही एग्जाम देंगे वैसे ही आपके सामने मॉक टेस्ट का परिणाम आ जाएंगे, सेंटर केटीचर आपको आपकी गलतियों को सुधारने में मदद करेंगे.

-जो स्टूडेंट ऑफिशियल वेबसाइट के थ्रू रजिस्टर करेंगे, वे नेशनल एलिजबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट-यूजी और यूजीसी नेट के लिए आयोजित किए जाने वाली मॉक परीक्षा का हिस्सा बन सकते हैं.

प्वाइंट टू बी नोटेड

-नेशनल टेस्ट एजेंसी अपने टेस्ट सेंटर को नेक्स्ट ईयर से एजुकेशन सेंटर के रुप में परिवर्तित कर देगी

-अभ्यास केंद्र आठ सितंबर से काम करना स्टार्ट कर देंगे.