बैंकॉक (रॉयटर्स)। पिछले महीने बाढ़ वाली गुफा से बचाए गए 12 बच्चों के समूह में से तीन बच्चों और उनके 25 वर्षीय फुटबॉल कोच एकापोल चानथावांग को थाईलैंड की नागरिकता दे दी गई है। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) ने गुरुवार को थाईलैंड सरकार के इस फैसले का स्वागत किया। यूएनएचसीआर के विशेष सलाहकार कैरल बैचलर ने एक बयान में कहा, 'बुधवार को इन लड़कों और उनके कोच को नागरिकता देकर थाइलैंड सरकार ने उन्हें जीवन में बेहतर और सुनहरे सपने देखने का मौका दिया है।

अब बच्चे कर सकते हैं अपने सपनों को साकार
उन्होंने आगे कहा कि गुफा में चले राहत और बचाव कार्य के दौरान थाइलैंड में बिना नागरिकता के रह रहे लोगों की तकलीफों की ओर भी दुनिया का ध्यान गया। थाइलैंड में ही पैदा होने के बाद भी इन तीन बच्चों और उनके कोच के पास थाई नागरिकता नहीं थी। थाइलैंड सरकार ने उन्हें नागरिकता देकर एक औपचारिक पहचान प्रदान की है जो उनके आकांक्षाओं को प्राप्त करने में काम आएगा।' बता दें कि पिछले महीने ही थाईलैंड की बाढ़ वाली गुफा में फंसे 12 बच्चों के समूह और उनके फुटबॉल कोच को बाहर निकाला गया था।

तूफान के कारण गफा में फंस गई थी टीम

दरअसल, 23 जून के दिन एक ट्रेनिंग सेशन के दौरान ये पूरी टीम थाम लॉन्‍ग गुफाओं के भीतर गई थी। उसी दौरान अचानक तूफान आ गया और सभी गुफाएं पानी से भर गईं, जिसके बाद ये टीम उसी गुफा में फंस गई। 23 जून को ही स्‍थानीय लोगों को लावारिश हालत में मिली साइकिलों से पता चल गया था कि कुछ लोग गुफा में फंस गए हैं। इसके बाद यहां रेस्‍क्‍यू मिशन शुरु हुआ और धीरे-धीरे कर सभी बच्चों और उनके कोच को गुफा से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

थाईलैंड : गुफा से बचाए गए सभी बच्चों को मिली अस्पताल से छुट्टी

थाईलैंड : गुफा से बचाए गए बच्चों को मिलेगी अस्पताल से गुरुवार को छुट्टी

International News inextlive from World News Desk