- कैबिनेट का फैसला, 21 हजार शिक्षकों को मिलेगा फायदा

- कृषि, वेटेनरी और टेक्निकल यूनिवर्सिटी को भी सैद्धांतिक मंजूरी

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: राज्य सरकार ने शिक्षक दिवस के अवसर पर यूनिवर्सिटी के टीचर्स को सातवां वेतनमान देने का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कैबिनेट ने इसके प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी. इसका फायदा प्रदेश की 25 यूनिवर्सिटी के करीब 21 हजार से ज्यादा शिक्षकों को मिलेगा. उल्लेखनीय है कि इस बाबत विगत दो नवंबर 2017 को केंद्र सरकार द्वारा शासनादेश जारी किया गया था. इसके मुताबिक राज्य सरकार टीचर्स को शिक्षकों को एक जनवरी 2016 से बढ़ा हुआ वेतनमान देगी.

बाकियों को भी मिलेगा फायदा
राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि इसमें करीब 921.54 करोड़ रुपये व्यय होंगे जिसमें से पहले वर्ष में केंद्र सरकार आधा खर्च वहन करेगी जबकि आगामी वर्षो में इसका पूरा व्ययभार राज्य सरकार को वहन करना होगा. इसके अलावा कैबिनेट ने सूबे की कृषि, वेटेनरी और टेक्निकल यूनिवर्सिटी के टीचर्स को भी इसका लाभ देने की सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है. जल्द ही इसका प्रस्ताव भी कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा. उन्होंने साफ किया कि इसका लाभ यूनिवर्सिटी के कुलसचिव, वित्त अधिकारी, परीक्षा नियंत्रक, प्रति कुलपति, कुलपति, एकम्पनिस्ट, ट्यूटर्स, डिमांस्ट्रेटर्स इत्यादि को नहीं मिलेगा. केवल उच्च शिक्षा विभाग के अधीन यूनिवर्सिटी के टीचर्स इसके दायरे में आएंगे.

फैक्ट फाइल

- 25 यूनिवर्सिटी के टीचर्स को मिलेगा सातवां वेतनमान

- 21 हजार से ज्यादा टीचर्स को मिलेगा फायदा

- 921.54 करोड़ रुपये का आएगा व्ययभार