स्वास्थ्य विभाग की जांच में हुआ खुलासा, शासन के निर्देशों पर सीएमओ ने गठित की थी कमेटी

MEERUT। स्वास्थ्य विभाग की ओर से गुरुवार को 7 पैथोलॉजी लैब पर ताला लटका दिया गया क्योंकि ये लैब बिना रजिस्ट्रेशन चल रही थी। सीएमओ डॉ। राजकुमार ने बताया कि सभी लैब संचालकों के खिलाफ इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट व इंडियन पीनल कोड की धारा 419 व 420 के तहत एफआईआर करवाने की संस्तुति भी कर दगई है।

इन लैब्स पर हुई कार्रवाई

एसएसआर लैब, रोहटा रोड

श्रीराम पैथोलॉजी लैब, प्रह्लादनगर

दृष्टि पैथोलॉजी लैब, गढ रोड

माइक्रो केयर पैथोलॉजी लैब, जागृति विहार

शिव पैथोलॉजी लैब, गढ़ रोड

परफेक्ट पैथोलॉजी लैब, शास्त्रीनगर

शुभकामना पैथोलॉजी रोड, आरटीओ के पास

नहीं मिला रजिस्ट्रेशन

डॉ। राजकुमार ने बताया कि चिकित्सा व स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक की ओर से 15 अप्रैल को जिले की पैथोलॉजी लैब की जांच करने के निर्देश दिए गए थे। जिसके बाद एसीएमओ डॉ। गोपाल सिंह की टीम ने गुरुवार को कई जगह छापेमारी की थी। इस दौरान सात लैबों के लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन नहीं मिले। जिसके बाद सभी के खिलाफ संबंधित थानों में एफआईआर करवाने के लिए पत्र भेज दिया गया है।