यूपी बोर्ड हाईस्कूल मैथ के पेपर में एक सेंटर पर मिले 25 संदिग्ध परीक्षार्थी

डीआईओएस ने जब्त किया एडमिट कार्ड व आधार

varanasi

यूपी बोर्ड के हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा में जुगाड़ से पास होने की फिराक में लगे कुछ परीक्षार्थी मंगलवार को पकड़े गये.

खंड़ेश्वरी बाबा बालिका इंटर कालेज (चांदपुर) में हाईस्कूल के 25 परीक्षार्थी संदिग्ध मिले. डीआईओएस डॉ. ओपी राय ने सत्यापन के लिए उनके एडमिट कार्ड व आधार कार्ड जब्त कर लिया है. वहीं कुछ अन्य सेंटर्स पर भी गड़बड़ी की शिकायत मिली है.

उम्र है अलग-अलग

डीआईओएस ने बताया कि मंगलवार को फ‌र्स्ट शिफ्ट में हाईस्कूल की गणित की परीक्षा में इंस्पेक्शन के दौरान खंड़ेश्वरी बाबा बालिका इंटर कॉलेज केंद्र पर कुछ परीक्षार्थियों की उम्र काफी अधिक होने के कारण शक हुआ. एडमिट कार्ड व आधार कार्ड से मिलान करने पर दोनों में एक ही परीक्षार्थियों की उम्र अलग-अलग थी. पूछताछ में कई परीक्षार्थियों ने स्वीकार किया कि वह पास होने के बाद दोबारा हाईस्कूल की परीक्षा दे रहे है. गाजीपुर, चंदौली के परीक्षार्थियों ने बताया कि वह हाईस्कूल का फार्म पं. हरिशंकर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय से भरे थे. इस बाबत स्कूल से पूछताछ की गयी तो इन परीक्षार्थियों का विद्यालय में कोई रिकार्ड नहीं मिला. डीआईओएस ने हरिशंकर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य को नोटिस दी है. नोटिस में विद्यालय की मान्यता समाप्त करने की चेतावनी दी गई है.

नकल करते धराया

सेवापुरी स्थित कालिका धाम इंटर कॉलेज केंद्र पर फ‌र्स्ट शिफ्ट में हाईस्कूल की परीक्षा के दौरान एक परीक्षार्थी नकल करते हुए पकड़ा गया. कक्ष निरीक्षक ने परीक्षार्थी को चिट के साथ नकल करते हुए पकड़ लिया. उन्होंने तत्काल संबंधित परीक्षार्थी को रिस्टीकेट कर दिया. वहीं जनपद में परीक्षा केंद्रों को ऑनलाइन करने का काम शुरू कर दिया गया है. फ‌र्स्ट फेज में डिस्ट्रिक्ट के करीब 25 केंद्रों को इंटरनेट से लिंक करने का लक्ष्य रखा गया है ताकि परीक्षार्थियों की गतिविधियों पर ऑनलाइन भी नजर रखी जा सके. सनातन धर्म इंटर कॉलेज केंद्र को ऑनलाइन कर दिया गया है. 15 फरवरी तक जनपद के 20 और केंद्र ऑनलाइन होने की संभावना है.

खेल चालू है

सीसीटीवी कैमरा के बावजूद कुछ केंद्रों पर बोल कर नकल कराने का खेल जारी है. परीक्षार्थियों की माने तो कक्ष निरीक्षक कैमरे की पकड़ से दूर होकर खिड़की या दरवाजे के पास खड़े होकर सवाल बोलकर नकल करा रहे हैं. कैमरे में वायस रिकार्डिग न होने के कारण पकड़े नहीं जा रहे हैं. नकल के लिए लाउड स्पीकर का भी इस्तेमाल हो रहा है. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष सुधांशु शेखर त्रिपाठी ने इस बाबत डीएम से शिकायत की है.