2478

प्रदेश में सरकारी स्कूलों की संख्या

4500

प्रदेश में वित्त पोषित स्कूलों की संख्या

20,000

प्रदेश में वित्त विहीन स्कूलों की संख्या

बोर्ड के अधिकारी अपने कार्यालय से ही रखेंगे हर परीक्षा केंद्रों पर नजर

नकल रोकने के लिए यूपी बोर्ड ने शुरू की ऑनलाइन मानिटरिंग की तैयारी

पिछली बोर्ड परीक्षा में दो जिलों की मॉनिटरिंग कर किया गया था ट्रायल

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: यूपी बोर्ड परीक्षा को नकल विहीन कराने के लिए बोर्ड लगातार प्रयास कर रहा है. नकल माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए आए दिन नए प्रयोग किए जा रहे हैं. इसी क्रम में अब बोर्ड परीक्षा की ऑनलाइन मॉनिटरिंग करने की तैयारी कर रहा है. इसके तहत अधिकारी मुख्यालय में बैठे-बैठे चाहे जिस सेंटर की निगरानी कर सकेंगे. इसके लिए परीक्षा केंद्रों और बोर्ड कार्यालय को हर जिले की एनआईसी के माध्यम से आपस में जोड़ा जाएगा.

जिलों के एनआईसी से जुड़ेगा बोर्ड

यूपी बोर्ड ने जिलों में बने परीक्षा केन्द्रों से जुड़ने के लिए जिलों की एनआईसी के साथ जुड़ने का निर्णय लिया है. अधिकारियों के अनुसार बोर्ड में बनी प्लानिंग के हिसाब से जिलों के एनआईसी को बोर्ड की तरफ से बनाए गए परीक्षा केन्द्रों से जोड़ा जाएगा. इसके बाद सभी जिलों की एनआईसी को यूपी बोर्ड के मुख्यालय से जोड़ा जाएगा. इसके बाद बोर्ड मुख्यालय में बैठकर ही किसी भी जिले के किसी भी सेंटर का तत्काल निरीक्षण किया जा सकेगा. इसके साथ ही स्कूलों में लगे सीसीटीवी कैमरों में वाइस रिकार्डिग की व्यवस्था के निर्देश भी दिए गए हैं. यह व्यवस्था लागू होने के बाद जिन परीक्षा केन्द्रों पर बोलकर नकल कराने की बाते सामने आयी है. उस पर भी अंकुश लगाया जा सकेगा.

बीते परीक्षा में किया था ट्रायल

बोर्ड परीक्षा में ऑनलाइन मॉनिटरिंग का बीते परीक्षा में ट्रायल किया गया था. बोर्ड की तरफ से दो जिलों के परीक्षा केन्द्रों पर बोर्ड मुख्यालय से अधिकारियों ने कई बार निरीक्षण किया था. दो जिलों में ट्रायल के बाद अब इसे प्रदेश के सभी जिलों में लागू करने की तैयारी में बोर्ड जुट गया है.

यूपी बोर्ड परीक्षा में सभी केन्द्रों की ऑनलाइन मॉनिटरिंग की कवायद की जा रही है. ट्रायल हो चुका है. सबकुछ सही रहा तो इस बार बोर्ड परीक्षा में सभी केन्द्रों की ऑन लाइन मॉनिटरिंग बोर्ड मुख्यालय से की जाएगी.

नीना श्रीवास्तव, बोर्ड सचिव