- क्लास वन से लेकर इंटर तक मिलेगा अवार्ड

- शासन के निर्देशों पर डीआईओएस ने जारी किए निर्देश।

MEERUT यूपी बोर्ड में सीबीएसई की तर्ज पर अटेंडेंस अवार्ड सिस्टम शुरू करने का फैसला लिया गया है। ऐसा स्कूलों में अटेंडेंस होने की वजह से किया जा रहा है। बच्चों की स्कूलों में उपस्थिति को बढ़ाने के लिए उठाया गया यह कदम वाकई ही काम करेगा इसका अंदाजा लगाया जा रहा है।

कम हो रहीं हैं उपस्थिति

शासन के अनुसार यूपी में सरकारी स्कूलों में क्लास वन से फाइव तक के बच्चों की उपस्थिति हर रोज 40 प्रतिशत कम रहती है। क्लास एक से आठ तक के बच्चों की उपस्थिति 43 प्रतिशत कम रहती है। वहीं क्लास नौवीं से इंटर तक के बच्चों की उपस्थिति 30 प्रतिशत कम रहती है। जिससे जाहिर है कि स्कूलों के प्रति बच्चों की लगन कम होती जा रही है।

अब दिए है निर्देश

शासन के निर्देशों पर अब डीआईओएस ने भी सभी सरकारी स्कूलों को निर्देश जारी किए हैं। इस सत्र में शत प्रतिशत बच्चों के नाम विभाग को सूची में देने के लिए कहा है।

अवार्ड की योजना के बारे में स्कूलों को जानकारी दी है। सूची के लिए भी निर्देश जारी किए गए है।

-श्रवण कुमार यादव, डीआईओएस