फ्लाईओवर हादसे में घायलों को बेहतर चिकित्सा मुहैया कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी ने शहर के दो मंत्रियों सहित विधायकों को दी जिम्मेदारी

varanasi@inext.co.in

VARANASI : फ्लाईओवर हादसे पर सीएम योगी आदित्यनाथ की पैनी नजर है. सीएम ने शहर के दो मंत्री सहित सभी विधायकों को दो टूक कहा है कि घायलों के इलाज में किसी भी तरह की असुविधा न हो, यदि इलाज में एक्सपर्ट डॉक्टर्स की कमी आ रही है तो बाहर से नामचीन डॉक्टर्स का पैनल बुलाकर घायलों का बेहतर इलाज कराया जाए. बुधवार को घायलों का हाल जानने बीएचयू ट्रामा सेंटर पहुंचे राज्यमंत्री डॉ. नीलकंठ तिवारी, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार अनिल राजभर, काशी क्षेत्र अध्यक्ष महेशचंद्र श्रीवास्तव, प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मण आचार्य, विधायक उत्तरी रविंद्र जायसवाल, विधायक पिंडरा डॉ. अवधेश सिंह, विधायक कैंट सौरभ श्रीवास्तव आदि नेताओं ने घायलों और पीडि़त परिवारजनों से बातचीत की. परिजनों से इलाज के बाबत किसी भी तरह की कोई परेशानियों के बारे में भी पूछा. एसडीएम अंजनी सिंह और ड्यूटी पर तैनात नर्सिग स्टाफ से भी घायलों के इलाज का फीडबैक लिया. राज्यमंत्री डॉ. नीलकंठ तिवारी ने बताया कि हादसे के बाद हालात को लेकर सीएम हर घड़ी-हर पहर नजर बनाए हुए हैं. सभी जनप्रतिनिधियों को सीएम ने निर्देश दिया है कि सुबह-शाम हॉस्पिटल पहुंचकर घायलों के इलाज का फीडबैक लें. इलाज में एक्सपर्ट डॉक्टर्स की कमी तो नहीं आ रही. दवाएं पर्याप्त है कि नहीं. पल-पल की अपडेट ले रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेताया भी है कि घायलों के इलाज में यदि लापरवाहियों की शिकायत मिली तो किसी को बख्शा भी नहीं जाएगा.

एबीवीपी की सराहना

हादसे को लेकर गंभीर मुख्यमंत्री ने संगठन पदाधिकारियों को यह निर्देश दिया है कि पीडि़त परिवारजनों की हर कदम पर मदद करें. दुख की इस विपदा में परिवारजनों को ढांढ़स बंधाएं. किसी भी तरह की उनकी जरूरतों पर संज्ञान लेकर उसकी पूर्ति कराएं. घायलों को एडमिट कराने से लेकर तत्काल ब्लड अवेलेबल कराने पर एबीवीपी बीएचयू यूनिट टीम की भी सराहना की गई है.