lucknow@inext.co.in LUCKNOW (21 Sept):

समाजवादी पार्टी के प्रांतीय और राष्ट्रीय सम्मेलन से पहले सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश गुट को झटका देते हुए लोहिया ट्रस्ट से प्रो। रामगोपाल यादव को बाहर कर दिया। उन्होंने लोहिया ट्रस्ट में सचिव पद से रामगोपाल यादव की छुट्टी कर शिवपाल सिंह यादव की नियुक्ति कर दी। बैठक में अखिलेश यादव व धर्मेंद्र यादव के साथ आजम खां व बलराम यादव नहीं पहुंचे। सूत्रों की माने तो मुलायम आगामी 25 सितंबर को कोई अहम एलान कर सकते हैं। वहीं बैठक के बाद शिवपाल ने बताया कि सपा के प्रांतीय व राष्ट्रीय सम्मेलनों का निमंत्रण नहीं मिला, इसलिए वहां जाने का सवाल नहीं उठता है।

आधा घंटा चली बैठक
गुरुवार को लोहिया ट्रस्ट के दफ्तर में मुलायम सिंह ने बड़ा उलटफेर अंजाम देते हुए ट्रस्ट के सचिव पद से रामगोपाल यादव को हटाने और शिवपाल यादव की ताजपोशी कर दी। करीब आधा घंटे चली इस बैठक में प्रधान ट्रस्टी मुलायम सिंह ने पिछली कार्यवाही की पुष्टि के बाद आय-व्यय पर विचार भी किया। सामाजिक गतिविधियों पर चर्चा करते हुए सचिव पद से रामगोपाल को हटाने का निर्णय लिया। वहीं, बैठक में छह सदस्यों की गैरहाजिरी पर भी चर्चा की गयी और मुलायम सिंह को फैसला लेने के लिए अधिकृत भी किया गया।

लोहिया ट्रस्ट से रामगोपाल बाहर,शिवपाल बने सचिव

मालूम हो कि ट्रस्ट में मुलायम के अलावा 12 सदस्य हैं, जिसमें अखिलेश यादव, शिवपाल सिंह यादव, प्रो। रामगोपाल, धर्मेंद्र यादव, बलराम यादव, आजम खां, जगपाल सिंह और भगवती सिंह शामिल हैं। गत आठ अगस्त को भी बैठक में अखिलेश व रामगोपाल नहीं आए थे। ध्यान रहे कि इससे पहले मुलायम सिंह ने अखिलेश के चार समर्थक सदस्यों नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी, विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन, ऊषा वर्मा व आलोक शाक्य को बाहर किया था। उनके स्थान पर रामनरेश यादव, राम सेवक यादव, राजेश यादव और दीपक मिश्रा को शामिल किया गया था।

National News inextlive from India News Desk