पास लोगों में 29 द‍िव्‍यांग कैंडीडेट भी शाम‍िल
नई दिल्ली (प्रेट्र)। यूपीएससी ने परीक्षा पर‍िणाम आने के बाद बताया क‍ि इस बार 990 लोगों ने इस परीक्षा को पास क‍िया है। इसमें 750 पुरुषों और 240 महिलाओं ने बाजी मारी है। इसमें जिनमें 476 सामान्य श्रेणी के कैंडीडेट, 275 ओबीसी,165 अनुसूचित जाति के और 74 कैंडीडेट अनुसूचित जनजाति के हैं। लोग हैं। वहीं इन पास हुए लोगों में 29 द‍िव्‍यांग कैंडीडेट भी शाम‍िल हैं।

अनुदीप एक सहायक आयुक्त के रूप में तैनात

तेलंगाना में मेटाली से ओबीसी उम्मीदवार अनुदीप हैदराबाद में एक सहायक आयुक्त के रूप में तैनात हैं। अनुदीप 2014 बैच के आईआरएस (सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क) के एक अधिकारी हैं। अनुदीप ने मानव विज्ञान के साथ अपने वैकल्पिक विषय के रूप में परीक्षा उत्तीर्ण की। अनुदीप ने बीआईटीएस, पिलानी से बीई (इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रुमेंटेशन) की डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की है।  

द‍िव्‍यांग सौम्‍या शर्मा ने नौवां स्थान प्राप्‍त क‍िया
वहीं दूसरे स्‍थान पर अनु कुमारी ने शीर्ष स्थान पाने वाली महिला उम्मीदवारों की तीन साल की लकीर को इस बार भी बरकरार रखा। अनु ने दिल्ली विश्वविद्यालय से भौतिकी में बीएससी (ऑनर्स) के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की है। इन्‍होंने आईएमटी, नागपुर से एमबीए (वित्त और विपणन) किया है। वहीं यूपीएससी के मुताबि‍क दि‍व्‍यांग सौम्‍या ने भी इस परीक्षा में बाजी मारी है। सौम्‍या शर्मा ने नौवां स्थान हासिल किया।

957590 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था
अनु से पहले नंदिनी के आर, टीना डाबी और ईरा सिंघल क्रमशः सिविल सेवा परीक्षा 2016, 2015 और 2014 में सबसे ऊपर थीं। सिविल सेवा परीक्षा, 2017 के माध्यम से कुल 1058 रिक्तियों को भरना था । सिविल सेवा परीक्षा (प्रारंभिक) 18 जून 2017 को आयोजि‍त हुई परीक्षा के ल‍िए 957590 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था। परीक्षा में करीब 4,56,625 उम्मीदवार उपस्थित हुए थे।

सिविल सेवा परीक्षा सालाना तीन चरणों में होती

इसमें 13,366 उम्मीदवार अक्टूबर-नवंबर में लिखित (मुख्य) परीक्षा में शाम‍िल हुए थे। फरवरी-अप्रैल में 2,568 उम्मीदवार पर्सनालि‍टी टेस्‍ट पास क‍िया था। बतादें क‍ि देश में सिविल सेवा परीक्षा सालाना तीन चरणों में आयोजित की जाती हैं। इसमें प्रारंभिक, मुख्य और व्यक्तित्व परीक्षण या साक्षात्कार पर चयन होता है। इनके जरि‍ए ही आईएएस, आईएफएस व आईपीएस अधिकारियों का चयन क‍िया जाता है।

इंदु मल्‍होत्रा रह चुकी हैं कार्यस्‍थल पर यौन उत्‍पीड़न वाले चर्चित विशाखा कमेटी की मेंबर

कुशीनगर स्‍कूल वैन हादसे के ये 5 हैं जिम्‍मेदार

National News inextlive from India News Desk