- 1 मई 2018 को कमिश्नर ने ऊर्जा मित्र एप किया था लॉन्च

- ऊर्जा मित्र एप से दी जा रही है बिजली कटौती से जुड़ी जानकारी

<- क् मई ख्0क्8 को कमिश्नर ने ऊर्जा मित्र एप किया था लॉन्च

- ऊर्जा मित्र एप से दी जा रही है बिजली कटौती से जुड़ी जानकारी

BAREILLY:

BAREILLY:

ऊर्जा मित्र एप 1 मई को लॉन्च होने के बाद बिजली विभाग की पोल भी खुलनी शुरू हो गई है. 15 दिन में ही 95 फीडर में खराबी हो चुकी हैं. जबकि, फीडर से जुड़े 3 लाख 3 हजार 530 लोगों को अब तक मैसेज भेजे जा चुके हैं. सिर्फ वेडनसडे को ही शाम 4 बजे तक 1414 लोगों को फीडर, लाइन मेंटीनेंस की सूचना भेजी जा चुकी थी. इससे पहले शासन स्तर पर मॉनीटरिंग नहीं होने पर विभाग उपभोक्ताओं को फॉल्ट की जानकारी नहीं देता था और हंगामा होने पर उपभोक्ताओं को बता दिया जाता था कि स्थानीय स्तर पर सिस्टम सही है कटौती ऊपर से हो रही है. इसके चलते उपभोक्ता बिजली कटौती झेलने को मजबूर हाेते थे.

<ऊर्जा मित्र एप क् मई को लॉन्च होने के बाद बिजली विभाग की पोल भी खुलनी शुरू हो गई है. क्भ् दिन में ही 9भ् फीडर में खराबी हो चुकी हैं. जबकि, फीडर से जुड़े फ् लाख फ् हजार भ्फ्0 लोगों को अब तक मैसेज भेजे जा चुके हैं. सिर्फ वेडनसडे को ही शाम ब् बजे तक क्ब्क्ब् लोगों को फीडर, लाइन मेंटीनेंस की सूचना भेजी जा चुकी थी. इससे पहले शासन स्तर पर मॉनीटरिंग नहीं होने पर विभाग उपभोक्ताओं को फॉल्ट की जानकारी नहीं देता था और हंगामा होने पर उपभोक्ताओं को बता दिया जाता था कि स्थानीय स्तर पर सिस्टम सही है कटौती ऊपर से हो रही है. इसके चलते उपभोक्ता बिजली कटौती झेलने को मजबूर हाेते थे.

शहर के फीडर ने दिया धोखा

पिछले क्भ् दिनों में डिस्ट्रिक्ट के 9भ् फीडर में जो खराबी आई हैं उनमें सबसे अधिक फीडर शहर के शामिल हैं. इनमें से प्रमुख तौर पर आकाश पुरम, अशोकनगर, आवास विकास, आम्रपाली, ब्रह्मापुरा, बाईपास, सीबीगंज, डीडीपुरम, डेलापीर, एकता नगर, गोपाल नगर, गोल्डेन ग्रीन पार्क, हरुनगला, इंद्रा नगर, जगतपुर, जनकपुरी, आईवीआरआई रोड, कीर्ति नगर, केके हॉस्पिटल रोड, महानगर-क्, महानगर-ख्, मंडी समिति, मीरा की पैठ, नैनीताल रोड, पवन बिहार, रामगंगा, किला, रोहिला टॉवर, सतीपुर, शील चौराहा, स्टेडियम, सनसिटी, सुपरसिटी, सन सिटी विस्तार, और विमको फीडर प्रमुख्ा रूप से शामिल हैं.

शासन स्तर पर मॉनीटरिंग

दरअसल, ऊर्जा मित्र एप के जरिए शासन स्तर से मॉनीटरिंग हो रही है. लाइन मेंटीनेंस या सिस्टम अपग्रेड करने के लिए बिजली कटौती और दोबारा बिजली कब सुचारू होगी. इस बात की जानकारी जानकारी ऊर्जा मित्र पर देनी है, जिसके कारण अब कर्मचारी ख् घंटे का शटडाउन लेने के नाम पर ब् घंटे तक कटौती नहीं कर पा रहे हैं. वहीं इस बात की सूचना संबंधित क्षेत्र के बिजली उपभोक्ताओं को भी दी जा रही है. यही कारण है कि क्भ् दिन में ही उपरोक्त फीडर से जुड़े फ्,0फ्,भ्फ्0 उपभोक्ताओं को मैसेज भेज गए. जबकि, वेडनसडे को टोटल क्ब्क्ब् लोगों को मैसेज किए गए. इनमें से बरेली-क् फीडर से जुड़े ख्99 और स्टेडियम फीडर से जुड़े क्,क्क्भ् लोगों को मैसेज किए गए.

एक नजर

- क् मई को ऊर्जा मित्र एप लांच किया गया.

- 9भ् फीडर में आ चुकी है खराबी.

- फ्,0फ्,भ्फ्0 बिजली उपभोक्ताओं को मैसेज भेजे जा चुके हैं.

- ख् फीडर से जुड़े क्ब्क्ब् लोगों को वेडनसडे शाम ब् बजे तक मेसेज भेजे जा चुके थे.

जिस भी फीडर में खराबी या कहीं बिजली कटौती किसी कारण की जा रही है, तो उसकी सूचना ऊर्जा मित्र एप पर दी जा रही. संबंधित क्षेत्र से जुड़े बिजली उपभोक्ताओं को भी जानकारी दी जा रही है. अभी तक फ् लाख से अधिक लोगों को सूचनाएं दी जा चुकी हैं.

अंशुल अग्रवाल, चीफ इंजीनियर, बिजली विभाग