वाशिंगटन (पीटीआई)सोशल मीडिया और व्‍हाट्सऐप पर फेक न्‍यूज वायरल होने के कारण आए दिन होने वाले बवाल और दंगा फसाद से भारत ही नहीं दुनिया के तमाम देश परेशान हैं, लेकिन इंसानी निगरानी द्वारा फेक न्यूज को फैलने से रोकना अब तक संभव नहीं हो सका है। पर अब अमेरिकी वैज्ञानिकों की एक टीम ने एल्गोरिदम आधारित एक ऐसी प्रणाली (कंप्‍यूटर प्रोग्राम) विकसित कर लिया है, जो फेक न्‍यूज को पहचानने में इंसानी दिमाग से कहीं आगे रहकर काम करेगा। यह कंप्‍यूटर प्रोग्राम किसी भी न्‍यूज में ऐसे संकेतों को पहचान लेता है, जो उस समाचार को फर्जी करार देने के लिए काफी होंगे।

76 परसेंट तक सहीं ढंग से करता है फेक न्‍यूज की पहचान
अमेरिका में मिशिगन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने एक ऐसा सिस्टम विकसित किया है, जो किसी भी नकली समाचार की फर्जी कहानी को सही ढंग से पहचान करने में मनुष्यों की तुलना में काफी बेहतर तरीके से काम करता है। हाल केही में हुई रिसर्च के आधार पर वैज्ञानिकों ने दावा किया है, 70 प्रतिशत की मानव सफलता दर की तुलना में, इस प्रोग्राम का सक्‍सेस रेट 76 प्रतिशत तक पहुंच चुका है।

फेक न्‍यूज को इंसानों से पहले पहचान लेगा यह नया कंप्‍यूटर प्रोग्राम,देखिए इसका कमाल

मीडिया संस्‍थानों और एग्रीगेटर्स के लिए फेक न्‍यूज पर लगाम लगाना होगा आसान
फेक न्‍यूज की पहचान करने वाले इस कंप्‍यूटर प्रोग्राम को विकसित करने वाली टीम का कहना है। दुनिया भर में तमाम मीडिया संस्‍थान और न्‍यूज एग्रीगेटर्स अपने प्‍लेटफॉर्म पर पब्लिश होने वाली खबरों में से फेक न्‍यूज की पहचान के लिए मैन पावर की मदद ले रहे हैं, लेकिन अब इस नए कंप्‍यूटर प्रोग्राम से वो ज्‍यादा तेजी से फेक न्‍यूज को पहचान कर उन्‍हें प्‍लेटफॉर्म से हटा सकते हैं। फेक न्‍यूज को तेजी से पहचानना इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि ऐसी खबरें जितनी स्‍पीड से किसी प्‍लेटफॉर्म पर आती हैं, उतनी ही तेजी से वो गायब भी हो जाती हैं। इसलिए जल्‍दी से फेक न्‍यूज को पहचानना और उन्‍हें रिमूव करना ज्‍यादा जरूरी है।

इस टूल से पता चलेगी किसी व्‍यक्ति या वेबसाइट की विश्‍वसनीयता
फेक न्‍यूज डिटेक्‍टर प्रोग्राम को विकसित करने वाली टीम का यह भी मानना है कि इस ऑनलाइन टूल की मदद से आम लोग भी किसी व्‍यक्ति या वेबसाइट विशेष की खबरों की विश्‍वसनीयता को जांच कर सकेंगे।

स्मार्टफोन में स्‍क्रीनशॉट लेना है बड़ा आसान, बस यह तरीका जान लीजिए

इस सोशल मीडिया क्रोम एक्सटेंशन से फेसबुक का मजा हो जाएगा दोगुना!

अब स्मार्टफोन की पूरी स्क्रीन ही बन जाएगी फिंगर सेंसर! इस टेक्‍नोलॉजी का है कमाल

Technology News inextlive from Technology News Desk