DEHRADUN : दून का फेमस टूरिस्ट डेस्टिनेशन मसूरी टोबेको फ्री होने जा रहा है. प्रशासनिक स्तर पर इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. योजना के तहत मसूरी में टोबेको प्रोडक्ट की बिक्री पूरी तरह से बैन हो जाएगी. प्रतिबंध के बाद टोबेको प्रोडक्ट बेचने वालों पर सिगरेट एंड अदर टोबेको प्रोडक्ट्स एक्ट (कोटपा) के तहत कार्रवाई की जाएगी.

शहर में होगा स्पेशल सर्वे

मसूरी को टोबेका फ्री करने के लिए यहां एक कम्पलियेंस असेस्मेंट सर्वे कराया जाएगा. यह सर्वे किसी एनजीओ से कराने की योजना है. सर्वे में पर्यटन नगरी में सिगरेट और अन्य टोबेको प्रोडक्ट्स की खपत और इनकी बिक्री के स्थानों को चिन्हित किया जाएगा. इसके आधार पर यहां टोबेको फ्री कैंपेन शुरू की जाएगी.

पुलिस व नगर पालिका को पावर

टोबेका फ्री एरिया में टोबेको इस्तेमाल करने और टोबेको प्रोडक्ट्स बेचने वालों का चालान करने और उनसे जुर्माना वसूलने का काम पुलिस और नगर पालिका को सौंपा जाएगा. ये दोनों विभाग कोटपा एक्ट के तहत कार्रवाई करेंगे. बिना चेतावनी वाले टोबेको प्रोडक्ट को जिला तम्बाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ जब्त करेगा.

स्कूल्स भी होंगे टोबेको फ्री

जिले के शैक्षणिक संस्थानों के 100 यार्ड की दूरी तक टोबेको प्रोडक्ट्स की बिक्री पर भी बैन रहेगा. सभी होटल और रेस्टोरेंट को कोटपा एक्ट का पालन करना होगा. इसके लिए ब्लॉक स्तर पर कमेटियां बनाई जाएंगी. सभी स्कूल्स के बाहर टोबेको फ्री एरिया के बोर्ड भी लगाये जाएंगे.

घंटाघर के आसपास भी नजर

मसूरी के साथ ही देहरादून के घंटाघर के आसपास के क्षेत्र को भी टोबेको फ्री जोन बनाया जा रहा है. डीएम ने पुलिस विभाग और नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि घंटाघर के आसपास टोबेको प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने वालों का चालान करें और उनसे जुर्माना वसूलें.

प्रचार-प्रसार के निर्देश

डीएम ने जिला स्तरीय समन्वय समिति बनाने, प्रचार-प्रसार करने सार्वजनिक स्थलों पर तम्बाकू के दुष्प्रभाव की चेतावनी लिखने, स्कूलों में तंबाकू नियंत्रण कमेटी गठित करने के भी निर्देश दिये.